चिड़ियाघर के सबसे वृद्ध सदस्य की मौत, नियमानुसर किया गया अंतिम संस्कार

113

ग्वालियर।अतुल सक्सेना।

नगर निगम ग्वालियर द्वारा संचालित गांधी प्राणी उद्यान चिड़ियाघर में संरक्षित वृद्ध मादा सफेद बाघिन जमुना की मौत हो गई। जमुना काफी दिनों से बीमार चल रही थी उसका आज बुधवार 25 मार्च को दोपहर 12 बजे निधन हो गया। वन विभाग एवं नगर निगम के वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी में जमुना का अंतिम संस्कार किया गया।

चिड़ियाघर प्रभारी डॉ उपेंद्र यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि सफेद बाघिन जमुना का जन्म 2001 में दिल्ली के चिड़ियाघर में हुआ था और 2011 में उसे ग्वालियर चिड़ियाघर में लाया गया था। 19 वर्ष की वृद्ध मादा बाघिन अपनी वृद्धावस्था के कारण चलने फिरने में कठिनाई महसूस कर रही थी और आहार भी सीमित मात्रा में ले रही थी। जिसको सतत निगरानी में रखा जाकर पशु चिकित्सकों द्वारा निरंतर उसकी देखरेख की जा रही थी । निधन के बाद जमुना का शव परीक्षण पशु चिकित्सा सेवाएं ग्वालियर के डॉअनिल अग्रवाल, डॉ सूर्य प्रकाश उपाध्याय एवं डॉ उपेंद्र यादव द्वारा किया गया। शव परीक्षण के बाद वन विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी में चिड़ियाघर परिसर में उसका अंतिम संस्कार किया गया । इस दौरान चिड़ियाघर के यू क्यूरेटर गौरव परिहार, जू कीपर लियाकत खान सहित जमुना की देखभाल करने वाले कर्मचारी मौजूद थे जिन्होंने भारी मन और नम आँखों से जमुना को विदाई दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here