Corona Update: राजधानी में 37 की रिपोर्ट पॉजिटिव, राजभवन में फिर मिला एक संक्रमित

भोपाल।

मध्यप्रदेश(madhypradesh) के भोपाल (bhopal) में कोरोना(corona) की रफ्तार तेज हो गई है।मंगलवार को एक बार फिर यहां कोरोना (corona) का बड़ा विस्फोट हुआ है। एक साथ 37 की रिपोर्ट पॉजिटिव(report positive) आई है। जहाँ एक ही परिवार के आठ लोग संक्रमित पाए गए हैं।इनमें 8 साल की एक बच्ची भी शामिल है। भोपाल में अब मरीजों की संख्या बढ़कर 2534 हो गई है। अब तक जिले में कोरोना से 88 लोगों की मौत हो चुकी है।

दरअसल भोपाल में कोरोना की रफ्तार कम होने का नाम नही ले रही है। यहां आए दिन मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है और लोग एक के बाद एक दम तोड रहे है। मंगलवार को सीएमएचओ कार्यालय(cmho office) की तरफ से जारी हेल्थ बुलेटिन में जहां 37 पॉजिटिव मिले है। जिसमें एक बार फिर मंगलवार को राजभवन(raj bhavan) में फिर एक नया केस मिला है। सोमवार को भी यहां पर 3 सुरक्षाकर्मी संक्रमित मिले थे। अब तक राजभवन में 16 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इसके साथ ही भोपाल(bhopal) के संक्रमित इलाके अयोध्यानगर 5, कमलनानगर 6, सूरजनगर 2 और बैरागढ़ चिचली में 2 मरीज मिले हैं। वहीँ ऐशबाग 4, शाहजहानाबाद 3, जहांगीराबाद, आचार्य नगर और कल्याण नगर क्षेत्र से एक-एक कोरोना संक्रमित मिले हैं। जिसके बाद राजधानी में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 2534 पहुँच गई है। अब तक जिले में कोरोना से 88 लोगों की मौत हो चुकी है। हालांकि मंगलवार को 26 मरीज कोरोना संक्रमण को मात देकर घर लौट गए। जिले में अब तक 1815 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।

इधर मृतकों के गैस पीड़ित होने के दस्तावेज और अस्पतालों से मिली जानकारी के आधार पर की एक रिपोर्ट तैयार कर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को सौंपी गई है। संगठनों ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर कहा है कि इतनी बड़ी संख्या में गैस पीड़ितों की कोरोना से मौत हो रही है। इससे यह साबित हो रहा है कि गैस प्रभावित लोग दूसरी बीमारियों के लिए बहुत ज्यादा जोखिम में है। वहीँ इस मामले में भोपाल ग्रुप फॉर इंफारमेशन एंड एक्शन, भोपाल गैस पीड़ित स्टेशनरी कर्मचारी संघ और भोपाल गैस पीड़ित महिला-पुरुष संघर्ष मोर्चो गैस पीड़ित संगठनों ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है। जिसके बाद स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि अब घर घर जाकर लगों का सर्वे किया जायेगा।