इंदौर में 56 अन्य मरीज की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव, आंकड़ा 1085 पहुंचा

इंदौर। आकाश धोलपुरे।

मध्यप्रदेश(madhya pradesh) के इंदौर(indore) जिले में कोरोना(corona) का कहर जारी है। पिछले कुछ दिनों तक हल्की राहत देने के बाद शुक्रवार को 56 नए मरीज की रिपोर्ट पॉजिटिव(positive) आई है। वह 2 दिन पहले 2 लोगों के मौत के साथ है इंदौर में कोरोना से मरने वाले की संख्या 57 पहुंच गई है। वहीं अब तक 107 लोग स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं।शुक्रवार को 311 मरीजों के सैंपल जांच होने के बाद 56 मरीजों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। यह आंकड़ा शुक्रवार को जांच हुए सैंपलों का 18 फ़ीसदी है। इसके साथ ही इंदौर में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 1085 पहुंच गई है। वही अभी 921 मरीजों का इलाज अस्पताल में चल रहा है।माना जा रहा है मरीजों की बढ़ती संख्या को लेकर सरकार बड़ा फैसला ले सकती है। 3 मई के बाद जून तक लॉक डाउन बढ़ाया जा सकता है।

तबाही कि दौड़ में तेजी से भाग रहे कोरोना वायरस ने प्रदेश के इंदौर व उज्जैन को सबसे ज्यादा प्रभावित किया है। इंदौर के हाल तो ये है कि यहां हर रोज कोरोना पॉजिटिव मरीजो के मामले तेजी से सामने आ रहे है। शुक्रवार रात को जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक इंदौर में 56 नए संक्रमित सामने आए है। जिसके बाद कोरोना पॉजिटिव मरीजो की संख्या 1085 तक जा पहुंची है। बता दे कि इंदौर में एक माह के भीतर कोरोना संक्रमितो की संख्या में जबर्दस्त तेजी आई है। जहां एक माह पहले ये संख्या 4 थी वही वर्तमान में पॉजिटिव मरीजो की संख्या 1100 के करीब पहुंच गई है। शुक्रवार रात को चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय द्वारा जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक शहर में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 1085 हो गई वही कोरोना से 2 लोगो की मौत के मामले सामने आए है जिसके बाद मरने वालों की संख्या 57 तक जा पहुंची है। इनमें मल्हारगंज निवासी 55 साल के पुरुष की मौत 22 अप्रैल तो अरविंदो अस्पताल में 75 वर्षीय पुरूष की मौत 23 अप्रैल को हुई थी। हालांकि इस बीच राहत की खबर ये है कि शुक्रवार को अलग – अलग अस्पतालों से 35 मरीज डिस्चार्ज हुए है जिसके बाद अब तक कोरोना को हराकर 107 से अधिक लोग स्वस्थ होकर घर लौटे है। शुक्रवार को टेस्ट किये गए 311 सैम्पल में से 255 लोग निगेटिव पाए गए और 56 पॉजिटिव मरीज सामने आए है। बता दे कि संक्रमित मरीजो में शहर के एक निजी अस्पताल के डॉक्टर भी शामिल है वही दूसरी और डिस्चार्ज किये गए लोगो मे महू एएसपी (आईपीएस)अमित तोलानी और आईपीएस आदित्य मिश्रा शामिल है जिन्होंने कोरोना को मात दी है।

इधर, कोरोना की टेस्टिंग किट की कमी का मामला सामने आने के बाद इंदौर की एमजीएम लैब को 3 हजार टेस्टिंग किट मिली है। जिसमे ऑटोमेटिक आरएनए एक्सट्रेक्ट मशीन के लिये 600 व मैन्युल मशीन के लिये 2400 टेस्टिंग किट उपलब्ध कराई गई है। जिसके बाद बैकलॉग के 1200 से अधिक सैम्पल की जांच जल्द पूरी होने की संभावना है। वही राहत की बात ये भी है कि ICMR द्वारा शहर के एमआरटीबी अस्पताल की लैब और 2 अन्य निजी लैब्स को जांच की मंजूरी मिल गई है जिसके बाद संभावना है अब तीन दिन के अंदर बैकलॉग के 1 हजार से अधिक सैम्पल की जांच पूरी की जा सकेगी।

बता दें कि इससे पहले गुरुवार को इंदौर से 606 सैंपल जांच के लिए पुडुचेरी भेजे गए हैं। वही इंदौर के संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी ने बताया था कि शहर में गुरुवार को 428 सैंपल की जांच RNA एक्सटेंशन मशीन के जरिए की जा रही है। वही प्रशासन अभी RNA एक्सटेंशन किट की कमी से भी जूझ रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here