बीमा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  आगामी 25 दिसंबर (25 December) को क्रिसमस (Christmas) के साथ भारत रत्न स्व. अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) की जयंती है। इस मौके पर देशभर में बीजेपी (BJP) द्वारा कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) प्रधानमंत्री किसान निधि के अंतर्गत मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के 78 लाख किसानों के खाते में राशि ट्रांसफर करेंगे। यह जानकारी आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने कैबिनेट बैठक में दी।

यह भी पढ़े… MP News: किसानों के लिए बड़ी खबर, इस दिन मिलेगी PM किसान सम्मान निधि की 7वीं किस्त

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आज मंगलवार को वीसी द्वारा कैबिनेट बैठक (Cabinet Meeting) शुरू होने के पहले मंत्रियों को जानकारी दी कि अटल जी की जयंती पर प्रधानमंत्री मोदी वर्चुअल कार्यक्रम में किसानों से चर्चा कर उन्हें संबोधित करेंगे,जो मध्यप्रदेश में भी प्रसारित होगा। किसानों (Farmers) को प्रधानमंत्री किसान निधि (Pradhanamantri Kisaan Nidhi) की राशि अंतरित करने का यह वर्चुअल कार्यक्रम विकासखंड और पंचायत स्तर पर होगा।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  ने कहा कि मोदी प्रधानमंत्री किसान निधि के अंतर्गत देश के 9 करोड़ किसानों के खाते में 18 हजार करोड़ रुपए की राशि उनके बैंक खातों में अंतरित कर सौगात दे रहे हैं। इसमें मध्यप्रदेश के 78 लाख किसान शामिल हैं। इस योजना में केन्द्र सरकार द्वारा छोटे और सीमांत किसानों को 6 हजार रुपये की राशि प्रति वर्ष देने का प्रावधान है। किसानों के हित में इस योजना में दो-दो हजार रुपये की दो अतिरिक्त किश्तें जोड़कर योजना में किसान को 10 हजार रुपये वार्षिक दिए जाने का प्रावधान कर योजना की उपयोगिता बढ़ा दी गई है।

यह भी पढ़े… Indore News : BJP विधायक मालिनी गौड़ कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी

मुख्यमंत्री चौहान ने बताया कि किसान कल्याण पर मध्यप्रदेश सरकार लगातार कार्य कर रही है। प्रदेश के 35 लाख किसानों को सोलह सौ करोड़ रुपए की राहत राशि देने की पहल भी की गई। इसके अंतर्गत किसानों के खाते में राशि अंतरित की जा रही है। इसकी शुरुआत गत 18 दिसम्बर को की गई। अभी दी गई राशि एक तिहाई है। अगली किश्त के भुगतान के लिए भी आवश्यक प्रबंध किया जा रहा है।

कलेक्टरों को दिए निर्देश

मुख्यमंत्री चौहान ने बताया कि कार्यक्रम के संबंध में सभी कलेक्टर्स (Collectors) को विस्तृत निर्देश दिए जा रहे हैं। मुख्य कार्यपालन अधिकारी भी विकासखंड में इस कार्यक्रम के लिए समन्वय करेंगे। इसके अलावा कृषि, ग्रामीण विकास और राजस्व विभाग महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेंगे। कार्यक्रम में भारत सरकार और मध्यप्रदेश सरकार की कृषि एवं किसान कल्याण योजनाओं (Agriculture and Farmers Welfare Schemes) की विस्तार से जानकारी दी जाएगी।

मंत्री करें बड़ी परियोजनाओं की समीक्षा

मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा विभाग से संबंधित बड़ी परियोजनाओं की मंत्री भी नियमित रूप से समीक्षा करें। परियोजनाओं के क्रियान्वयन में समय-सीमा का ध्यान रखा जाए। उन्होंने कहा कि वह स्वयं हर महीने प्रोजेक्ट्स की समीक्षा कर रहे हैं। मंत्री प्रतिमाह समीक्षा कर कार्यों को गति प्रदान करें। निर्माणाधीन कार्यों की पूर्णता में विलम्ब होने से इनकी लागत भी बढ़ जाती है, इसलिए मुख्यमंत्री और मंत्री स्तर पर इनकी समीक्षा होना ही चाहिए।

ऐसा रहेगा कार्यक्रम का शेड्यूल

मुख्यमंत्री  चौहान ने बताया कि 25 दिसंबर को पूर्वान्ह 11:00 बजे कार्यक्रम में विधायक, सांसद भी उपस्थित रहेंगे। कृषि मंत्री को सूचना देकर विधायक और मंत्री अपने लिए कार्यक्रम स्थल निर्धारित कर लें। कार्यक्रम के प्रारंभ में विधायक और सांसद किसान कल्याण कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। इसके पश्चात मुख्यमंत्री का संबोधन होगा। तत्पश्चात दोपहर 12 बजे पहले केंद्रीय कृषि मंत्री और उसके बाद प्रधानमंत्री मोदी का संबोधन होगा। प्रधानमंत्री  मोदी द्वारा नए कृषि कानूनों की जानकारी भी दी जाएगी। मुख्यमंत्री चौहान ने मंत्रियों से इस कार्यक्रम की आवश्यक तैयारियां सुनिश्चित करने को भी कहा। उन्होंने कहा कि सभी कार्यक्रमों को व्यवस्थित रूप से संपन्न करवाने के लिए प्रशासनिक स्तर पर समन्वय पूर्वक कार्य किया जाए।