हार के बाद बदले-बदले अंदाज, अब कंधों पर ‘शिवराज’

5818
after-defeat-become-more-popular-ex-cm--Shivraj-Now-on-the-shoulders

भोपाल| सत्ता जाने का दुःख मध्य प्रदेश में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कदम नहीं रोक पा रहा है और -पांव-पांव वाले भैया- के नाम से चर्चित शिवराज के कदम एक बार फिर गांवों की ओर बढ़ चले हैं| हार के बाद भी लोगों का उन्हें समर्थन मिल रहा है और शिवराज लगातार गांव के दौरे कर रहे हैं| अपने गृह जिले में पहुंचे शिवराज को समर्थकों ने कंधे पर उठा लिया| सीएम रहते जब वह रीवा जिले में बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का दौरा करने गए थे तब एक तस्वीर जमकर वायरल हुई थी तब ‘गोद में सरकार’ कहकर उन्हें जमकर ट्रोल किया गया था| अब एक और तस्वीर ‘हार के बाद कंधो पर शिवराज’ वायरल हो रही है| सीहोर जिले के ग्राम खजुरी पहुंचे शिवराज का जोरदार स्वागत किया गया| 

मध्य प्रदेश में 13 साल मुख्यमंत्री रहे शिवराज राजनीति के माहिर खिलाड़ी है और एक हार के कारण बैठना उन्हें पसंद नहीं है| यही कारण है कि इस्तीफे के बाद अब शिवराज नए अंदाज में दिखाई दे रहे और लगातार सुर्ख़ियों में बने हुए हैं| लगातार ट्वीटर पर सक्रियता और दौड़ भाग उन्होंने शुरू कर दी है| ऐसा माना जा रहा था कि सत्ता जाने के बाद शिवराज कम ही अब सक्रिय रहेंगे| लेकिन लोकसभा चुनाव को टारगेट बनाकर शिवराज लोगों के बीच खुले दिल से मिल रहे हैं और लोगों को भी उनका यह अंदाज भा रहा है| कांग्रेस की सरकार पांच साल चलेगी या नहीं और टाइगर जिन्दा है जैसे डायलॉग देकर शिवराज ने जहां विरोधियों को चौंका दिया है, वहीं अब वह एक आम आदमी वाली छवि बनाने में जुट गए हैं| बीते दिनों वह ट्रैन से ही बीना पहुंचे और लोगों के साथ खूब सेल्फी ली| इसके बाद सड़क यात्रा कर गाँव गाँव पहुँच रहे हैं  | अपने गृह जिले में शिवराज मोटर साइकिल की सवारी करते हुए सीहोर के सुरई गाँव पहुंचे| वहीं जिले के ग्राम खजुरी पहुंचे शिवराज को कार्यकर्ताओं ने कंधे पर उठा लिया और उनका जोरदार स्वागत भी किया|   भाजपा में जहां हार की हताशा है तो हमेशा वन मेन आर्मी रहे शिवराज के चेहरे पर हार की कोई चिंता नहीं है और वह अगले मिशन में जुट गए हैं, शिवराज की यह सक्रियता कांग्रेस के लिए चिंता का विषय बन गयी है| 

शॉल लपेट देर रात रैन बसेरा पहुंचे

इससे पहले शिवराज शनिवार रात को भोपाल की सेर पर निकले और भोपाल के सुल्तानिया अस्पताल के सामने बने रैन बसेरा पहुंचे| यहां शिवराज ने पहले तो बाहर अलाव के पास बैठे लोगों से बात की और उसके बाद रैन बसेरे में रात गुजारने वाले लोगों से मुलाकात की| वे यहां करीब 15 मिनट रुके और लोगों के साथ बातचीत की | 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here