दिल्ली से लौटकर देर रात सीएम शिवराज ने ली बैठक, बाढ़ प्रभावितों को लेकर दिए ये निर्देश

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। सीएम शिवराज सिंह चौहान दिल्ली से भोपाल लौट आए हैं और यहां आने के बाद वो देर रात भी मुख्यमंत्री निवास में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मध्यप्रदेश के बाढ़ प्रभावित इलाकों की स्थिति को लेकर महत्वपूर्ण बैठक कर रहे हैं। उन्होने अधिकारियों के साथ बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के दौरे के दौरान देखी स्थिति को साझा किया।

फर्जी नोटशीट ट्रांसफर मामले में मंत्री का चपरासी और विधायक का कुक निकला आरोपी

नई दिल्ली में हुई मध्यप्रदेश संसदीय दल की बैठक में सीएम शिवराज सिंह चौहान कुछ ही देर ठहरे और फिर प्रदेश लौट आए। उन्होने कहा कि “मैं भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा जी की इजाज़त लेकर वापस भोपाल जा रहा हूँ। उत्तरी मध्यप्रदेश में भयानक बाढ़ की स्थिति है। लगातार चल रहे बचाव और राहत कार्य के कारण लगभग 5,000 लोगों का रेस्क्यू किया गया है। अभी ऑपरेशन आगे जारी रहेगा, जिसकी मॉनिटरिंग मैं करूंगा। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी का आशीर्वाद हमें लगातार मिल रहा है। उन्होंने कल दो बार फोन पर स्थिति की जानकारी ली, आज भी चर्चा की। केंद्र सरकार उनके मार्गदर्शन में लगातार हमारी सहायता कर रही है। मेरा वापस जाना जरूरी है, जिससे हम रेस्क्यू ऑपरेशन को ठीक तरह से संचालित कर सकें।” दिल्ली में लौटते हुए सीएम ग्वालियर में अधिकारियों के साथ बैठक कर तथा बाढ़ प्रभावित इलाकों का एरियल सर्वे करते हुए आए हैं।

भोपाल लौटने के बाद सीएम हाउस में अधिकारियों के साथ बैठक में मुख्यमंत्री ने संबंधित अधिकारियों को बाढ़ पीड़ितों की भोजन व्यवस्था, बिजली की आपूर्ति शीघ्र सुनिश्चित करने, बीमारियाँ रोकने के उपयुक्त इंतज़ाम करने, संचार व्यवस्था दुरुस्त करने व टूटे हुए पुलों की जगह वैकल्पिक व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए हैं। उन्होने निर्देश दिए कि प्रशासन राहत कैम्प्स में समुचित व्यवस्था उपलब्ध कराए। अनेक लोगों के घर बाढ़ के कारण टूट कर बह गए हैं। बारिश में उनपर संकट गहरा है। इसलिए उनके लिए प्राथमिकता के साथ वैकल्पिक व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए हैं।