हेलीकॉप्टर के बाद अब कंप्यूटर बाबा ने सरकार से की एक और डिमांड

After-the-helicopter

भोपाल।

शिवराज सरकार की नाक में दम करने वाले कम्प्यूटर बाबा ने अब कमलनाथ सरकार के लिए मुश्किलें खड़ी करना शुरु कर दिया है। हेलीकॉप्टर के बाद अब बाबा ने सरकार के सामने एक और डिमांड रखी है। बाबा ने अब मंत्रालय में एक आलीशान कमरा मांगा है। इतना ही नही इसके साथ ही उन्होंने नदी की निगरानी के लिए ड्रोन कैमरा उपलब्ध कराने की भी मांग की है।अब देखना होगा कि बाबा की डिमांड सरकार पूरी करती है या नही और कब तक…।

दरअसल,  नर्मदा, क्षिप्रा एवं मन्दाकिनी नदी न्यास के अध्यक्ष की कुर्सी संभालने के बाद कंप्यूटर बाबा ने सरकार से हेलिकॉप्टर की मांग की थी जिसे सरकार ने खारिज कर दिया था। बाबा ने राज्य सरकार से हेलिकाॅप्टर के बाद अब मंत्रालय में कक्ष आवंटन की मांग कर डाली है। इसके साथ ही उन्होंने नदी की निगरानी के लिए ड्रोन कैमरा उपलब्ध कराने की भी मांग की है। इसके पीछे उनका तर्क है कि वे इससे अवैध रेत उत्खनन पर नजर रख सकेंगे। नर्मदा न्याय मंडल के अध्यक्ष ने अध्यात्म विभाग के मंत्री पीसी शर्मा को कक्ष आवंटित करने के लिए पत्र लिखा है।   इसके लिए कंप्यूटर बाबा ने मंत्री पीसी शर्मा को पत्र भी लिखा है।

खबर है कि  बाबा को जल्द कमरा मिल जाएगा। धर्मस्व विभाग ने बाबा को कक्ष आवंटन के लिए जीएडी को पत्र लिखकर जानकारी दी है।शर्मा ने कंप्यूटर बाबा के इस पत्र के संदर्भ में सोमवार को सामान्य प्रशासन विभाग को नोटशीट लिखी है, जिसमें कंप्यूटर बाबा के लिए मंत्रालय में कक्ष आवंटित किए जाने को कहा गया है। इसकी पुष्टि विभागीय मंत्री पीसी शर्मा ने भी की है।मंत्री पीसी शर्मा ने कहा- कंप्यूटर बाबा ने नर्मदा में अवैध रेत खनन को रोकने के लिए जिन संसाधनों की मांग की है उन्हें पूरा करने पर विचार किया जाएगा।