उत्तर प्रदेश : चंदौली घटना पर अखिलेश ने सरकार पर साधा निशाना, कहा – जल्द हो पुलिस पर कार्रवाई

सैयदराजा थाना क्षेत्र के मनराजपुर निवासी कन्हैया यादव गैंगेस्टर का आरोपी है और फिलहाल जिला बदर भी है। रविवार की शाम उसकी तलाश में पुलिस ने उसके घर दबिश दी। आरोप है कि पुलिस को जब कन्हैया नहीं मिला तो पुलिसवालों ने उसकी बेटियों निशा यादव उर्फ गुड़िया (22) और गुंजा (18) के साथ साथ कथित तौर पर मारपीट की।

लखनऊ, डेस्क रिपोर्ट। उत्तर प्रदेश के चंदौली (Chandauli) जिले में गैंगस्टर की बेटी की मौत के मामले ने तूल पकड़ ली है। इस मामले में अब सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव का बयान सामने आया है, जहां उन्होंने यूपी पुलिस पर मौत का इल्जाम लगाते हुए, धारा 302 लगाकर उचित कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने कहा, “चंदौली में पुलिस ने जानबूझकर उस घर पर छापा मारा. जब पुलिस को कोई नहीं मिला तो उन्होंने बहन को बुरी तरह से मारा. अखिलेश यादव ने कहा कि पुलिस के खिलाफ 302 के तहत मुकदमा दर्ज होना चाहिए।”

इतना ही नहीं उन्होंने इस दौरान ट्विटर का सहारा लेते हुए प्रदेश सरकार पर भी निशाना साधा।

क्या है पूरा मामला

दरअसल, सैयदराजा थाना क्षेत्र के मनराजपुर निवासी कन्हैया यादव गैंगेस्टर का आरोपी है और फिलहाल जिला बदर भी है। रविवार की शाम उसकी तलाश में पुलिस ने उसके घर दबिश दी। आरोप है कि पुलिस को जब कन्हैया नहीं मिला तो पुलिसवालों ने उसकी बेटियों निशा यादव उर्फ गुड़िया (22) और गुंजा (18) के साथ साथ कथित तौर पर मारपीट की, जिसमें गुड़िया की मौत हो गई। इसके बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस पर कार्रवाई की मांग को लेकर देर रात तक हंगामा किया।

इस प्रकरण में तहरीर के आधार पर सैयदराजा इंस्पेक्टर उदय प्रताप सिंह पर मुकदमा दर्ज हुआ है और एसपी ने रविवार रात ही सैयदराजा इंस्पेक्टर को निलंबित कर जांच के निर्देश दिए है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में वजह साफ नहीं

मृतक की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद से मामला और उलझ गया है। पोर्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार निशा की मौत पिटाई के कारण नहीं बल्कि कुछ गलत खाने के कारण हुई। हालांकि,गले पर खरोंच और जबड़े पर चोट के निशान पाए गए हैं। इसके अलावा आंतरिक या बाहरी किसी तरह की चोट नहीं है।

जहां पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक यह सुसाइड का मामला लग रहा है वहीं अभी भी पूरा गांव इसी बात पर अड़ा हुआ है कि निशा की मौत पुलिसवालों के मारपीट के कारण हुई है।