अमरिंदर बोले- “सिद्धू नहीं, अपमान की वजह से दिया इस्तीफा”

लुधियाना, डेस्क रिपोर्ट। मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद पंजाब के कार्यवाहक मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने कहा है कि उन्होने इस्तीफा नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) की वजह से नहीं बल्कि पार्टी में लगातार हो रहे अपमान की वजह से दिया है। कैप्टन अमरिंदर के इस बयान के बाद पंजाब (Punjab) की राजनीति में एक नया मोड़ आ गया है।

बोले अमरिंदर- सिद्धू के साथ पाकिस्तान PM और आर्मी चीफ की दोस्ती, CM बनने का करूंगा विरोध

अमरिंदर सिंह ने कि जिस तरह का व्यवहार उनके साथ हो रहा था उससे वे अपमानित महसूस कर रहे थे। उन्होने कहा कि वो सदन के नेता थे लेकिन विधायक दल की बैठक के बारे में उन्हें जानकारी तक नहीं दी गई। दो महीने में तीन बार उन्हें दिल्ली बुलाया गया। इन सारी बातों से साफ संकेत मिले कि ये सब उन्हें अपमानित करने की मंशा से किया जा रहा है। उन्होने आगे कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू उनके इस्तीफे की वजह नहीं हैं। हालांकि उन्होने सिद्धू की विश्वसनीयता पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि सिद्धू के पाकिस्तान (Pakistan) के आर्मी चीफ (Pakistan Army Chief) और प्रधानमंत्री इमरान खान (Pakistani PM) से सिद्धू के संबंध हैं और राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए उनको सीएम बनाना सही नहीं होगा। अमरिंदर सिंह ने कहा कि यदि  सिद्धू को मुख्यमंत्री बनाया जाता है तो वह इसका विरोध करेंगे। बता दें कि पंजाब में कुछ महीने बाद विधानसभा चुनाव होने हैं। क्या अमरिंदर सिंह कांग्रेस छोड़ेंगे..इस सवाल पर उन्होने कहा कि फिलहाल वे कांग्रेस में हैं और आगे अपने समर्थकों के साथ बातचीत कर कोई निर्णय लेंगे।