VIDEO: CM के सामने नाराज होकर कार्यक्रम छोड़ गए महापौर, शिवराज बोले- ‘कांग्रेस ने किया अपमान’

Angered-from-the-government-bjp-Mayor-alok-sharma-left-the-program-in-bhopal-

भोपाल| मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बेरोजगार युवाओं के लिए मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना का शुभारंभ किया। योजना में अब तक 49 हजार 294 बेरोजगार युवाओं ने अपना रजिस्ट्रेशन कराया है। योजना में 21 से 30 वर्ष आयु समूह के शहरी युवा पंजीयन करवा रहे हैं। योजना में 2 लाख रूपये से कम वार्षिक आय वाले परिवार के शहरी युवाओं को लाभांवित किया जाएगा।  योजना की लांचिंग के लिए शुक्रवार को लाल परेड मैदान में कार्यक्रम आयोजित किया गया था, जिसमे भोपाल महापौर आलोक शर्मा भी शामिल हुए| कार्यक्रम के अंत में आभार भाषण नहीं देने का मौक़ा नहीं देने पर वे अचानक नाराज होकर मंच से उठ कर निकल गए| शर्मा ने सरकार पर प्रोटोकॉल के उल्लंघन का आरोप लगाया| इस पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस पर हमला बोला है और माफ़ी मांगने की बात कही | 

दरअसल, कार्यक्रम का आयोजन नगरीय विकास विभाग और नगर निगम की तरफ से कराया जा रहा था। इसमें प्रोटोकॉल के अनुसार, स्वागत भाषण या फिर आभार प्रदर्शन के लिए शहर के प्रथम नागरिक महापौर को बुलाया जाता है। लेकिन स्वागत भाषण नगरीय विकास मंत्री जयवर्धन सिंह ने दिया।  इसके बाद आभार प्रदर्शन के लिए आरिफ मसूद को बुला लिया गया। इससे नाराज होकर महापौर अलोक शर्मा उठे और मंच पर बैठे मंत्रियों और मुख्यमंत्री को हाथ जोड़ते हुए निकल गए| कार्यक्रम से बाहर आकर शर्मा ने मीडिया के सामने अपने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि नगर निगम की तरफ से कराया जा रहा था| इसमें उन्हें आभार प्रदर्शन का मौक़ा देना चाहिए था| शर्मा ने कहा यह भोपाल के 27 लाख लोगों का अपमान है, मैं उनका मेयर हूँ|  वहीं कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने पलटवार करते हुए कहा यह मेरा विधानसभा क्षेत्र है इसलिए मुझे ही आभार प्रदर्शन करने का अधिकार है हम मेयर की नाराजगी से नहीं डरते|   


शिवराज बोले, इतना अहंकार ठीक नहीं, माफ़ी मांगें 

आलोक शर्मा को अभारा प्रदर्शन नहीं करने दिए जाने का मामले पर सियासत गरमा गई है| भाजपा ने इसको लेकर कांग्रेस पर हमला बोला है| पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कांग्रेस पर निशाना साधा है| उन्होंने लिखा है मुख्यमंत्री कमलनाथ के युवा सम्मान कार्यक्रम में मेयर आलोक शर्मा को आभार भाषण नहीं देना जनप्रतिनिधि के अधिकारों का हनन और अपमान है। कांग्रेस को इस कृत्य के लिए क्षमा मांगनी चाहिए। सत्ता आज है, कल नहीं होगी, इसलिए मैं कहना चाहता हूं कि इतना अहंकार ठीक नहीं है।

देखिये वीडियो