पूर्व कांग्रेस नेता के घर से पकड़ाया हथियारों का जखीरा, आर्म्स एक्ट के तहत गिरफ्तार

जबलपुर, संदीप कुमार। भान तलैया इलाके में रहने वाले पूर्व कांग्रेसी नेता गजेंद्र सोनकर (former congress leader gajendra sonkar) के घर पर पुलिस ने बीती रात छापा मारा। पुलिस को यहां एक जुए का अड्डा मिला जिसमें 41 जुआरी जुआ खेल रहे थे। इसके अलावा पुलिस को करीब सात लाख नगदी, दो देसी कारवाइन मशीन गन, 18 राइफल रिवाल्वर और दूसरी बंदूकें, 1478 कारतूस सहित कई हथियार बरामद हुए हैं। पुलिस ने 41 जुआरियों के साथ गजेंद्र सोनकर को गिरफ्तार कर लिया है।

हथियारों का जखीरा पकड़ा
पूर्व कांग्रेसी नेता गज्जू उर्फ गजेंद्र सोनकर के ठिकाने से पुलिस को जो हथियार मिले हैं  उनकी लिस्ट बड़ी लंबी है और यह खतरनाक हथियार भी हैं। इसमें दो देसी कारवाइन हैं, 18 दूसरे हथियार जिसमें राइफल, रिवाल्वर, माउजर, एयर गन और छोटे-बड़े कई बोरों की अलग-अलग बंदूकें शामिल हैं। इसके अलावा 1478 कारतूस बरामद हुए हैं, जो अलग-अलग बंदूकों के लिए इस्तेमाल किए जा सकते हैं। इनमें कुछ देसी और कुछ विदेशी बंदूकें भी हैं। इसके साथ ही तलवार जैसे धारदार हथियार भी मिले हैं। पुलिस को पूर्व कांग्रेस नेता के घर से हिरण और सांभर के सींग भी बरामद हुए हैं।

एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने बताया कि अब इस मामले में आरोपी गजेंद्र सोनकर को रिमांड पर लेकर उनसे पूछताछ की जाएगी कि उनके पास यह हथियार कहां से आए और वे इनका क्या इस्तेमाल करते थे। गजेंद्र सोनकर के खिलाफ 25-27 आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। कुछ हथियार दूसरे जुआरियों से भी बरामद हुए हैं, उनके खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है।

गजेंद्र सोनकर के राजनीतिक संबंध
गजेंद्र सोनकर जबलपुर की पूर्व विधानसभा से कांग्रेस का टिकट मांग रहे थे और उनके कई कांग्रेस नेताओं से अच्छे संबंध हैं। उनके भाई धर्मेंद्र सोनकर जिनकी बीते दिनों गोली मारकर हत्या कर दी गई थी वह कांग्रेस से भान तलैया वार्ड से पार्षद थे। गजेंद्र सोनकर की कई तस्वीरें वायरल हुई हैं जिसमें वे राहुल गांधी, दिग्विजय सिंह और कमलनाथ के साथ नजर आ रहे हैं। हालांकि स्थानीय राजनीति में उनका बहुत विरोध था और इसी वजह से उन्हें टिकिट नहीं मिला था।

कई सालों से चल रहा था जुआ
गजेंद्र सोनकर के घर में यह जुआ कई सालों से चल रहा था पुलिस ने कई बार यहां कार्रवाई करने की कोशिश भी की, लेकिन नाकाम रही। दरअसल, जहां ये जुआ चल रहा था वहां एक घनी बस्ती है और सड़क से लेकर अंदर तक पूरे में सीसीटीवी कैमरे लगे हुए थे। जैसे ही पुलिस गलियों में अंदर आती तो जुए के अड्डे पर जानकारी लग जाती थी और लोग भाग जाते थे। लेकिन इस बार जबलपुर पुलिस ने रणनीति बनाकर काम किया और छापामार  कार्रवाई को अंजाम दिया। जिस जगह पर जुआ का फड़ लगता था उससे एक किलोमीटर दूर एसपी कार्यालय है। आस-पास कई थाने हैं। लेकिन इसके बाद भी पुलिस को इस कार्रवाई को करने में बहुत देर लगी, जिसके चलते पुलिस की कार्यप्रणाली पर भी सवाल खड़े होते रहे हैं।

ये हुआ बरामद

कुल हथियार- 17
1- देशी 9 एमएम कारबाईन 02 नग
2- 12 बोर डबल बेरल 02 नग
3- सपोर्टिंग राईफल 02 नग
4- 32 बोर पिस्टल 02 नग
5- एयरगन 05 नग
6- 4.5 एमएम रिवाल्वर 01 नग
7- देशी रिवाल्वर 02 नग
8- देशी पिस्टल 01 नग

कुल कारतूस 1478 राउंड 
12 बोर- 589 राउंड
20 सेैंटर  फायर रायफल राउंड – 80 राउंड,
9 एम.एम. -80 राउंड एवं 7 खाली खोखे,
32 बोर – 560 राउंड
.22 एमएम- 120 राउंड
30.6 एमएम- 12 राउंड,
8 एमएम-1 राउंड
7 एमएम 4 राउंड
6 अन्य कारतूस
एक बड़ा कारतूस जिसका पीतल का बेस है तथा लाल रंग का है

कुल मैग्जीन 19 नग 
32 बोर- 8 नग
315 बोर 1 नग
9 एमएम कारबाईन-3 नग
शार्टगन- 2 नग
9’ एमएम स्पेशल 02 नग,
एयर गन 2 नग,
30.6 एमएम 01 नग

धारदार हथियार 
खडग-01 नग
बका 01 नग
फरसा 02 नग
छोटी कुल्हाड़ी 01 नग
तथा जंगली जानवर के सींग- 02 नग

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here