Madhya Pradesh Assembly: विधानसभा का मानसून सत्र जुलाई में, अधिसूचना जारी

भोपाल।

कोरोना संकटकाल और लॉकडाउन के बीच प्रदेश में विधानसभा का मानसून सत्र 20 से 24 जुलाई तक होगा। इस पांच दिवसीय सत्र में ही प्रदेश का बजट भी पारित किया जायेगा। वहीँ पांच दिन के सत्र में पांच बैठकें भी संचालित होंगी। जिसको लेकर विधानसभा सचिवालय ने शनिवार को सत्र की अधिसूचना जारी की।

दरअसल प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए बजट सत्र स्थगित कर दिया गया था जिसके बाद जब पांच दिवसीय मानसून सत्र में बजट पारित जायेगा इसके लिए राज्यपाल के सचिव मनोहर दुबे शुक्रवार को राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात के लिए विशेष रूप से लखनऊ गए थे। जिसके बाद शनिवार को विधानसभा सचिवालय ने शनिवार को सत्र की अधिसूचना जारी की। वहीँ विधानसभा के प्रमुख सचिव एपी सिंह ने बताया कि कोरोना की परिस्थितियों की वजह से सत्र संक्षिप्त अवधि का रखा गया है। पांच दिवसीय सत्र के पहले दिन श्रद्धांजलि के बाद विधानसभा अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के चुनाव के बाद सदन की कार्यवाही शुरू होगी। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि सत्र के विस्तृत कार्यक्रम जल्द ही जारी किये जाएंगे।

बता दें कि मध्यप्रदेश विधानसभा का बजट सत्र 16 मार्च से शुरू होना था। राज्यपाल लालजी टंडन की मंजूरी के बाद इस सिलसिले में अधिसूचना जारी कर दी गई थी। लेकिन प्रदेश में तेजी से फैलते कोरोना संक्रमण को देखते हुए विधानसभा स्थगित कर दी गयी थी। अब बजट जुलाई के मानसून सत्र में पारित होगा। इस दौरान मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए अपना बजट पेश करेगी।