आधी रात भोपाल पुलिस ने की ऐसी कार्रवाई, मचा हड़कंप

big-action-of-bhopal-police-in-midnight

भोपाल। राजधानी में बीती रात पुलिस ने मादक तस्करों के खिलाफ अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई की है। इतवारा स्थित कंजर बस्ती में यह कार्रवाई तीन सौ पुलिस जवानों की अगवाही में पूरे मोहल्ले को घेरकर अंजाम दी गई है। इस दौरान पुलिस फोर्स ने बस्ती के करीब 50 से अधिक घरों को सर्च किया। दो दर्जन से अधिक मकानों से जमीन में गड़ी शराब, भारी मात्रा में गांजा और चरस सहित दस लाख रूपए केश जब्त किए हैं। पुलिस ने आरोपियों के घर से धारदार हथियारों को भी बरामद किया है। मामले में एएसपी मनु व्यास का कहना है कि करीब 31 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। सभी के खिलाफ अलग-अलग प्रकरण दर्ज किए जा रहे हैं। गिरफ्तार आरोपियों में आधा दर्जन करीब महिलाएं भी शामिल हैं।

जानकारी के अनुसार रात 12 बजे पुलिस कंट्रोल रूम से करीब तीन सौ जवानों को तलैया थाना क्षेत्र के लिए रवाना किया गया था। यहां आईजी यौगेश देशमुख और डीआईजी इरशाद वली ने टीम को कार्रवाई संबंधी जानकारी दी। इस दौरान एसपी नौर्थ शैलेंद्र चौहान, एएसपी मनुव्यास सहित दो सीएसपी तथा कई थानों के थाना प्रभारी भी मौजूद थे। फोर्स ने एक साथ इतवारा स्थित कंजर मोहल्ले में दबिश दी। वाहनों से उतरते ही पुलिस जवानों ने पूरे मोहल्ले को छावनी में तबदील कर दिया। सभी मकानों को हथियारों से लैस पुलिस जवानों तथा अधिकारियों ने घेर लिया। इसके बाद में अलग-अलग टीमें बनाकर बारी-बारी सभी घरों की सर्चिंग की गई। इस दौरान पुलिस को हथियारों का जखीरा सहित नकदी,मादक पदार्थ तथा अवैध शराब मिली। सभी के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की जा रही है। उल्लेखनीय है कि राजधानी में इस प्रकार की यह पहली कार्रवाई है। पूर्व में एक तनाव के दौरान इसी मोहल्ले मेें तत्कालीन एसपी अभय सिंह की आंख को पत्थर मारकर अस्माजिक तत्तवों ने फोड़ दिया था। संबंधित थाना पुलिस इस मोहल्ले में घुसने से भी कतराती है।

सैंकड़ो पुलिसकर्मियों ने छाने एक एक ठिकाने 

राजधानी के ये इलाका ऐसा था कि यहां जाने में पुलिस भी घबराती थी। क्योंकि नशे के इस काराबोर में केवल पुरुष ही नहीं, बल्कि महिलाएं भी शामिल थी। ऐसे में मौका पड़ने पर वो पुलिस पर भी हमला करने से नहीं चूकती थी। इसलिए एक रणनीति के तहत इस कार्रवाई को अंजाम दिया। इस नशे के  काले कारोबार को ध्वस्त करने के इरादे से आला पुलिस अफसरों ने 250 पुलिसकर्मियों की स्पेशल टीम के साथ एक-साथ कई घरों में दबिश दी।