इंदौर एसटीएफ की बड़ी कार्रवाई, असली सोने में मिलावट का करोड़ो का मामला उजागर, हो सकते हैं बड़े खुलासे

गिरफ्तार आरोपियों के पास से एसटीएफ (STF) ने 3 किलो 75 ग्राम सोना बरामद किया है। जिसकी कीमत 1 करोड़ 55 लाख रूपए बताई जा रही है। साथ ही एक करोड़ रुपये की नगद राशि बरामद की है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर (Indore) की स्पेशल टास्क फोर्स (special task force) ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए छोटा सराफा के चार सोना-चांदी कारोबारियों को उनके घर से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों के पास से एसटीएफ (STF) ने 3 किलो 75 ग्राम सोना बरामद किया है। जिसकी कीमत 1 करोड़ 55 लाख रूपए बताई जा रही है। साथ ही एक करोड़ रुपये की नगद राशि बरामद की है।

यह भी पढ़ें…तो जल्द मिल सकती है Scindia को कैबिनेट में जगह! मोदी-शाह की बैठक के मायने, चर्चा में इनके नाम

एसटीएफ के आरक्षक ओमवीर जब इस काले कारनामे की जानकारी मिली थी। जिसके बाद उसने तुरंत आला अधिकारियों को इसकी जानकारी दी। जानकारी के मुताबिक मुख्य आरोपी द्वारा विदेश से सोने के बिस्कुट मंगवाकर उसमे मिलावट की जाती थी। ताकि वो टैक्स से बच सके और साथ ही मुनाफा भी कमा सके। फिलहाल एसटीएफ ने सभी आरोपियों को गिरफ्त में लेकर पूछताछ शुरू कर रही दी है। दरअसल, इंदौर एसटीएफ के एक आरक्षक को मुखबिर से सूचना मिली थी कि इंदौर के छोटा सराफा के ज्वेलर रवि जैन ने लॉकडाउन के दौरान बड़े पैमाने पर सोना तस्करी की है।

सूचना मिलते ही एसटीएफ की टीम ने एरोड्रम रोड स्थित महावीर एवेन्यू पर छापामार कार्रवाई की और आरोपी रवि जैन निवासी महावीर कृपा, योगेंद्र जैन निवासी तिलक नगर, दलाल अरविंद नीमा निवासी नेमा नगर केसर बाग रोड़ और दिनेश जैन निवासी परमहंस नगर को गिरफ्तार किया। एसटीएफ ने इनके कब्जे से 3 किलो 75 ग्राम सोना और एक करोड़ से अधिक की नगद राशि बरामद की है। सोने की कीमत करीब एक करोड़ 55 लाख रूपए बताई जा रही है।

एसटीएफ एसपी मनीष खत्री ने बताया कि पूरे मामले में डीआरआई को जानकारी देने के साथ ही आयकर विभाग को भी सूचना दे दी गई है। जानकारी ये भी सामने आई है कि आरोपियों द्वारा तस्करी का सोना अहमदाबाद के जरिये इंदौर लाया जाता था। इसके बाद आरोपी असली सोने के बिस्किट का नकली बिल बनाते थे।

यह भी पढ़ें…दिग्विजय सिंह के बयान पर बवाल जारी, अब केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल ने साधा निशाना

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पकडे गए आरोपियों संपर्क कई राज्यों और विदेशी सोना तस्करों व कारोबारियों से भी है। वही जब्त किए सोने के कई बिस्किट्स पर दुबई की सील लगी मिली है। ऐसे में अब एसटीएफ आरोपियों की कॉल डिटेल उनके कनेक्शन किन लोगो से है और बैंक खातों की जानकारी निकाल रही है।

जानकारी के मुताबिक मुख्य आरोपी रवि जैन ने पूछताछ में बताया की वो 100 प्रतिशत शुद्धता वाले सोने के बिस्कुट मंगवाकर गला देता था। फिर उसमे मिलावट कर नए बिस्कुट तैयार करता था। इस प्रकार उसे टैक्स और मिलावट का मुनाफा होता था। फिलहाल, एसटीएफ, चारों आरोपियों से पूछताछ कर रही है और माना जा रहा है कि इस पूरे मामले में कई बड़े खुलासे हो सकते है।