सीएम शिवराज का बड़ा फैसला- खाद की कालाबाजारी करने वालों पर रासुका के निर्देश

सीएम शिवराज सिंह ने अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए कि खाद की कालाबाजारी (Fertilizer black marketing) करने वालों पर रासुका के तहत कार्यवाही की जाये।

mp corona

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार (MP Shivraj Government)ने किसानों और खाद की कालाबाजारी को लेकर बड़ा फैसला लिया है। आज  सीएम शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को एक बार फिर प्रदेश की जनता को आश्वस्त किया कि किसी भी हालत में खाद की कमी नहीं होने दी जाएगी। सरकार (MP Government) पूरी ताकत के साथ खाद की आपूर्ति व्यवस्था सामान्य करने की कोशिश कर रही है।

यह भी पढ़े.. सीएम शिवराज ने दी बड़ी सौगात- हितग्राहियों के खातों में करोड़ों की राशि ट्रांसफर

सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने शुक्रवार को प्रदेश में खाद की आवश्यकता और उपलब्धि की समीक्षा की। उसके बाद उन्होंने कहा कि किसान (Farmers) भाई पूरी तरह आश्वस्त रहें हम पूरी ताकत से खाद की व्यवस्था में लगे हैं और भारत सरकार इसमें लगातार सहयोग कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि 31 अक्टूबर तक खाद की 32 रेक मध्यप्रदेश में आ जाएंगी। उन्होंने कहा कि मैं लगातार भारत सरकार (Indian Government) के संपर्क में हूं। आज भी मेरी खाद व उर्वरक मंत्री से बात हुई है और उन्होंने पूरा आश्वासन दिया है कि मध्यप्रदेश को नवंबर माह में भी जो खाद की आवश्यकता होगी, वह पूरी उपलब्ध कराई जाएगी।

यह भी पढ़े.. अटक सकता है PF पेंशन- 7 लाख का इंश्योरेंस, जल्द करें ये काम, ये है पूरी प्रक्रिया

सीएम शिवराज सिंह ने अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए कि खाद की कालाबाजारी (Fertilizer black marketing) करने वालों पर रासुका के तहत कार्यवाही की जाये। मुख्यमंत्री ने किसानों से यह भी अनुरोध किया कि वे पूरी तरह निश्चिंत रहें। सरकार पूरी ताकत के साथ खाद की व्यवस्था में लगी है और उन्हें चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है। इसी बीच कमलनाथ (Kamal Nath) ने भी ट्वीट करके सरकार से खाद की व्यवस्था जल्द बहाल करने की मांग की है। उन्होंने सरकार पर आरोप लगाया है कि एक तरफ जहां बोनी के वक्त किसानों को खाद की आवश्यकता है वही पूरी सरकार इन सब बातों को भूलकर उपचुनाव (MP By-election 2021) में लगी है।