MP: किसानों के लिए बड़ी खबर, अब 31 जिलों में होगी मूंग की खरीदी, मंडी के रिकार्ड से होगा मिलान, ये रहेगा रेट

इसके लिए पहली बार मंडियों से किसानों द्वारा मूंग बेचने का रिकार्ड एकत्र करके कलेक्टरों को भेजा गया है।

mp moong purchase

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के किसानों के लिए खुशखबरी है। अब बालाघाट जिले को भी मूंग खरीदी में शामिल कर लिया गया है। 18 जुलाई से ग्रीष्मकालीन मूंग की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदी के लिये पंजीयन जारी है और इसकी लास्ट डेट 28 जुलाई है, जिन किसानों ने अभी तक रजिस्ट्रेशन नहीं करवाया है, वे 28 से पहले करवा लें। इसके बाद उपार्जन की तारीख घोषित की जाएगी। अभी तक एक लाख 10 हजार टन मूंग समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए किसानों ने पंजीयन कराया है। वही मूंग खरीदी में गड़बड़ी रोकने के लिए मंडी के रिकार्ड का मिलान किया जाएगा।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज, बकाया एरियर की राशि जारी, जल्द चेक करें अकाउंट, 40000 तक मिलेगा लाभ

मूंग की न्यूनतम समर्थन मूल्य 7 हजार 275 रूपए प्रति क्विंटल की दर पर खरीदी जाएगी। किसानों के पंजीयन के लिये राज्य सूचना केन्द्र को सभी आवश्यक तैयारियाँ करने के निर्देश दिए गए हैं।वही बालाघाट पीआरओ की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार, ग्रीष्मकालीन फसल मूंग एवं उड़द की खरीदी में अब बालाघाट जिले को भी शामिल कर लिया गया है। मध्यप्रदेश पिछड़ा वर्ग कल्याण आयोग के अध्यक्ष एवं विधायक गौरीशंकर बिसेन के प्रयास से ग्रीष्मक़ालीन फसल मूँग और उड़द को न्यूनतम मूल्य पर उपार्जन के लिए शामिल किया जाएगा।

यह भी पढ़े.. सरकारी कर्मचारियों को सीएम का बड़ा तोहफा, साल में 2 बार मिलेंगे प्रमोशन के चांस, प्रस्ताव को मंजूरी

वही राज्य सरकार ने फैसला किया है कि बाजार में ग्रीष्मकालीन मूंग की समर्थन मूल्य से कम कीमत और किसानों को नुकसान से बचाने के लिए सरकार खुद मूंग का उपार्जन करेगी। इसके लिए पहली बार मंडियों से किसानों द्वारा मूंग बेचने का रिकार्ड एकत्र करके कलेक्टरों को भेजा गया है। इससे किसान द्वारा पंजीयन में बताई जाने वाली कुल उपज का बोवनी और औसत उत्पादन के हिसाब से मिलान कराया जाएगा। इसमें अंतर पाए जाने पर मात्रा घटाकर उपार्जन किया जाएगा।

31 जिलों में होगी मूंग की खरीदी

ग्रीष्मकालीन मूंग की खरीदी 31 जिलों बालाघाट, नर्मदापुरम, नरसिंहपुर, रायसेन, हरदा, सीहोर, जबलपुर, देवास, सागर, गुना, खण्डवा, खरगोन, कटनी, दमोह, विदिशा, बड़वानी, मुरैना, बैतूल, श्योपुरकला, भिण्ड, भोपाल, सिवनी, छिंदवाड़ा, बुरहानपुर, छतरपुर, उमरिया, धार, राजगढ़, मण्डला, शिवपुरी और अशोकनगर में होगी।

9 जिलों में उड़द की खरीदी

उड़द की खरीदी जबलपुर, कटनी, नरसिंहपुर, दमोह, छिंदवाड़ा, पन्ना, मण्डला, उमरिया और सिवनी सहित 9 जिलों में की जायेगी।

बता दे कि मध्य प्रदेश के होशंगाबाद, रायसेन, सीहोर, हरदा, भोपाल, विदिशा, राजगढ़ सहित प्रदेश के अन्य कई जिलों में मूंग की अच्छी पैदावार होती है। इस बार भी प्रदेश में मूंग की अच्छी फसल हुई है, ग्रीष्मकाल में करीब 17 लाख टन मूंग का उत्पादन हुआ। केंद्र सरकार ने इस बाद किसानों से 2.27 लाख टन मूंग खरीदने की अनुमति दी है। प्रदेश के 31 जिलों में इस बार 12 लाख हेक्टेयर से ज्यादा इलाके में ग्रीष्मकाल के दौरान मूंग की खेती की गई थी, ऐसे में अब एमएसपी पर खरीदी की शुरुआत होने किसानों को बड़ी राहत मिलेगी।