सहकारिता मंत्री का बड़ा बयान, प्रधानमंत्री मोदी करते है बदले की राजनीति, सीएम कमलनाथ नहीं

भोपाल। मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार ने एक साल का कार्याकल पूरा कर लिया। चुनाव से पूर्व कांग्रेस ने भाजपा सरकार के कार्यकाल में हुए तमाम घोटालों को मुद्दा बनाकर चुनाव लड़ा था और सरकार बनने के बाद उन घोटालों की जांच कराकर दोषियों को सजा दिलाने की बात कही थी, लेकिन इतना समय गुजर जाने के बाद भी कमलनाथ सरकार किसी भी घोटाले की जांच को अंजाम तक नहीं पहुंच सकी। इस बारे में कमलनाथ सरकार में सहकारिता मंत्री गोविंद सिंह से यह पूछे जाने पर उनका कहना है कि प्रधानमंत्री मोदी बदले की राजनीति करते हैं, लेकिन मुख्यमंत्री कमलनाथ नहीं। घोटालों की जांच चल रही है, समय आने पर ठोस कार्रवाई होगी।

बुधवार को मीडिया ने सहकारिता मंत्री मंत्री गोविन्द सिंह ने एक साल बीत जाने के बाद भी घोटालों को लेकर किसी एक भी पूर्व मंत्री के खिलाफ मामला दर्ज नहीं किये जाने के बारे मे पूछा। जिसका जवाब देते हुए मंत्री गोविन्द सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ संवेदनशील है और बदले कि भावना से काम नहीं करते हैं, जैसे कि प्रधानमंत्री मोदी कर रहे हैं। अगर सीएम कमलनाथ भी ऐसा ही करने लगे तो दोनों मे क्या फर्क रह जायेगा| उन्होंने कहा कि अभी जांच चल रही है, धीरे धीरे तथ्य सामने आ रहे है| जो दोषी है उन पर कार्यवाही हो रही है| उन्होंने साफ़ तौर पर कहा है कि जो पूर्व मंत्री घोटालों कि  जांच मे दोषी पाए जाएंगे, उनको भी नहीं बख्शा जायेगा।