आज आ सकती है भाजपा के एक दर्जन प्रत्याशियों की सूची, इनका कटेगा टिकट!

7060
-BJP-can-issue-a-dozen-candidates-list-today-for-loksabha-election

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी मध्य प्रदेश की लोकसभा सीटों के लिए आज प्रत्याशियों की पहली सूची जारी कर सकती है। जिसमें पहले चरण की 6 सीट एवं दूसरे चरण की 7 सीटों के लिए नामों का ऐलान हो सकता है।  शुक्रवार को दिल्ली में केन्द्रीय चुनाव समिति की बैठक पर प्रत्याशियों के नाम लगभग तय हो चुके हैं। 

प्रदेश चुनाव समिति की बैठक में ज्यादातर उम्मीदवारों के नाम फाइनल कर लिए गए थे, जिसके बाद लिस्ट दिल्ली भेजी गई थी। जहां केन्द्रीय चुनाव समिति ने अपनी बैठक में कई नामों पर मुहर लगा दी है। हालांकि अभी तक यह साफ नहीं है कि पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान चुनाव लड़ेंगे या नहीं। वहीं लगभग एक दर्जन से ज्यादा सांसदों के टिकट कटना तय माना जा रहा है, इसके अलावा कुछ का क्षेत्र बदला जा सकता है| 

गौरतलब है कि 29 सीटों पर रायशुमारी पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव सहित अन्य वरिष्ठ नेताओं ने की थी। सीटवार फीडबैक और रिपोर्ट को चुनाव समिति के सदस्यों के समक्ष रखा गया था जिसके बाद उम्मीदवारों के नाम पर सहमति बनी थी। भाजपा सूत्रों ने बताया कि पहले एवं दूसरे चरण में सीधी, शहडोल, मंडला, बालाघाट, जबलपुर, छिंदवाड़ा, बैतूल, दमोह, खजुराहो, रीवा, सतना, होशंगाबाद, टीकमगढ़ में चुनाव होना है। इन सीटों के लिए प्रत्याशी आज तय हो सकते हैं। 

कब कहां होंगे चुनाव 

पहला चरण 29 अप्रैल

सीधी, शहडोल, मंडला, बालाघाट, जबलपुर, छिंदवाड़ा

दूसरा चरण 6 मई

बैतूल, दमोह, खजुराहो, रीवा, सतना, होशंगाबाद, टीकमगढ़

तीसरा चरण 12 मई

मुुरैना, भिंड, ग्वालियर, गुना, सागर, विदिशा, भोपाल,राजगढ़

चौथा चरण 19 मई

देवास, उज्जैन, धार, खंडवा, इंदौर, मंदसौर, रतलाम, खरगोन

इन सीटों पर बदल सकते हैं चेहरा 

विदिशा, बैतूल, खजुराहो और देवास में नया उम्मीदवार उतारना तय है। क्योंकि विदिशा सांसद सुषमा स्वराज चुनाव लडऩे से इंकार करा चुकी है। बैतूल सांसद का जाति प्रमाण पत्र अमान्य हो चुका है। देवास और खजुराहो सांसद विधायक  बन चुके हैं। इंदौर सांसद सुमित्रा महाजन का इस बार टिकट काटा जा सकता है। उन्हें केंद्र में सरकार आने पर राज्यपाल बनाने का भरोसा देकर लगभग मना लिया गया है। इतना ही नहीं महाजन के खिलाफ इंदौर में भाजापा नेता खुलकर मैदान में है। मुरैना से नरेन्द्र सिंह तोमर चुनाव लड़ सकते हैं। इसके अलावा सागर, बालाघाट, सतना, शहडोल, उज्जैन,  राजगढ़, मंदसौर, धार, सीधी, भिंड सांसदों के टिकट काटे जा सकते हैं। 

इस वजह से बदले जाएंगे चेहरा 

प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों में से 26 सीटों पर भाजपा का कब्जा है। इनमें से एक दर्जन से ज्यादा सीटों पर प्रत्याशी बदलना लगभग तय हो चुका है। विदिशा सीट से सांसद सुषमा स्वराज ने इस बार चुनाव लडऩे से इंकार कर दिया है। वे पिछले 3 साल से क्षेत्र में देखने तक नहीं आई हैं। उनके खिलाफ पोस्टर भी लग चुके हैं। ऐसे में विदिशा से भाजपा नया चेहरा उतारेगी। इसी तरह खजुराह सांसद नागेन्द्र सिंह विधायक बन चुके हैं, वहां भाजपा नया चेहरा उतारेगी। इसी तरह देवास सांसद मनोहर ऊंटवाल भी विधायक बन चुके हैं। बैतूल सांसद ज्योति धुर्वे का अनुसूचित जनजाति का प्रमाण पत्र निरस्त हो चुका है। यह सीट अजजा के लिए आरक्षित है। ऐसे में ज्योति का टिकट कटना लगभग तय है। वहीं इंदौर सांसद सुमित्रा महाजन का भी टिकट कट सकता है। मुरैना एवं ग्वालियर सीट पर प्रत्याशियों की अदला-बदली हो सकती है। मुरैना सांसद अनूप मिश्रा भितरवार से विधानसभा चुनाव हार गए थे, उनके खिलाफ मुरैना संसदीय क्षेत्र में नाराजगी है। ऐसे में उन्हें ग्वालियर से टिकट मिल सकता है या टिकट कट सकता है। जबकि ग्वालियर सांसद नरेन्द्र सिंह तोमर एक बार फिर मुरैना से चुनाव लड़ सकते हैं। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here