bjp-give-ticket-to-rss-choice-candidate-on-25-per-cent-seats-in-madhya-pradesh-

भोपाल। लोकसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने 28 सीटों पर प्रत्याशियों के नाम का ऐलान कर दिया है। जिनसें से 7 सीट भोपाल, उज्जैन, ग्वालियर, राजगढ़, खजुराहो, बैतूल, खरगोन सीट पर संघ की पंसद के प्रत्याशियों को चुनाव मैदान में उतारा है। इन सीटों पर संघ की प्रतिष्ठा दाव पर लगी है। इनमें से भोपाल लोकसभा सीट पर संघ ने कांग्रेस के दिग्विजय सिंह के खिलाफ साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को प्रत्याशी बनवाया है। इंदौर में भी संघ की पंसद के नेता को प्रत्याशी बनाया जा सकता है। प्रतिष्ठा बचाने के लिए संघ चुनावी जमावट में भी जुट गया है। 

भाजपा को प्रत्याशी चयन करने में खासी मशक्कत करनी पड़ी है। जिसकी वजह संघ की पसंद के प्रत्याशियों को एडजस्ट करना है। संघ ने बैतूल एवं खरगोन की आरक्षित सीट पर अपनी पसंद के दुर्गादास उइके और गजेन्द्र सिंह पटेल को प्रत्याशी बनवाया है। आदिवासी अंचल में संघ लंबे समय से सक्रिय रूप से काम कर रहा है। इसी तरह ग्वालियर के विवेक शेजवलकर के नाम पर भी संघ के दखल के बाद मुहर लगाई गई। वे दो बार महापौर रहे हैं, वे संघ पृष्ठभूमि से हैं। राजगढ़ से रोड़मल नागर को पहला बार पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की पंसद पर 2014 में लोकसभा टिकट मिला था, लेकिन इस बार उन्हें संघ नेताओं की सिफारिश पर प्रत्याशी बनाया गया है। अभाविप के लंबे समय तक संयोजक रहे वीडी शर्मा को संघ के दखल पर ही खजुराहो से प्रत्याशी बनाया गया है। वहीं संघ ने कांग्रेस से दिग्विजय के नाम का ऐलान होते ही प्रज्ञा सिंह ठाकुर को भाजपा प्रत्याशी बनाने का फैसला कर लिया था। प्रज्ञा और वीडी शर्मा एक साथ अभाविप में रहे हैं। दोनों मूलत: भिंड-मुरैना के निवासी हैं। 

बजरंग दल से हैं फिरोजिया

उज्जैन प्रत्याशी अनिल फिरोजिया पूर्व विधायक है। वे लंबे समय तक बजरंग दल में रहे हैं। उनके पिता भरेलाल फिरोजिया जनसंघ से विधायक रहे और संघ से भी जुड़े थे। यही वजह है कि उन्हें उज्जैन से प्रत्याशी बनाया गया है। 

ये हैं संघ की पसंद के प्रत्याशी 

क्षेत्र             प्रत्याशी    राजनीति

उज्जैन अनिल फिरोजिया पूर्व विधायक 

खरगोन  गजेन्द्र पटेल पहला चुनाव

बैतूल          दुर्गादास उइके    पहला चुनाव 

ग्वालियर विवेक शेजवलकर महापौर 

राजगढ़ रोडमल नागर         सांसद

खजुराहो वीडी शर्मा पहला चुनाव 

भोपाल प्रज्ञा सिंह ठाकुर पहला चुनाव