बागियों को मनाने में कामयाब हुई कांग्रेस, बीजेपी के रूठे थाम सकते हैं ‘हाथ’

3351
BJP-lags-behind-Congress-in-damage-control

भोपाल। विधानसभा चुनाव के समय कांग्रेस के बागी और रूठों की घर वापसी हो रही है। वहीं, बीजेपी में भी इस काम को तेजी से अंजाम दिया जा रहा है। लेकिन कांग्रेस के मुकाबले बीजेपी पिछड़ती दिखाई दे रही है। इस बार लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने वर्तमान आधे से अधिक वर्तमान सांसदों के टिकट काटे हैं। जिससे खफा हो कर वह प्रचार से दूरी बनाए हुए हैं। ऐसे में बीजेपी को रूठों से भिरघात का भी खतरा बना है। वहीं, कांग्रेस लगातार अपने रूठोंं को पार्टी में दोबारा शामिल कर रही है। 

दरअसल, बीजेपी में रूठों की संख्या कांग्रेस के मुकाबले अधिक है। धार से पूर्व सांसद गजेंद्र सिंह राजुखेड़ी ने भी पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। वह सोमवार को निर्दलीय नामांकन दाखिल करेंगे अगर उन्होंंने बीजेपी ने टिकट नहीं दिया तो। हालांकि, इस सीट पर बीजेपी पहले ही उम्मीदवार तय कर चुकी है लेकिन गजेंद्र ने पार्टी को चेतावनी दी है। वहीं, कांग्रेस इस मौके को भुनाने में लगी है। पार्टी नेताओं ने गजेंद्र से संपर्क कर उनकी मुलाकत सीएम कमलनाथ और पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह से करवाई। सिंह के निर्देश का पालन करते हुए वह भोपाल पहुंचे। इससे पहले विदिशा सीट से कांग्रेस के खिलाफ निर्दलीय पर्चा दाखिल करने पर अड़े राजकुमार पटेल को मंत्री जीतू पटवारी ने शांत करवाया और उन्हें नामांकन दाखिल नहीं करने के लिए मना लिया। 

गोविंद गोयल, विधायक हीरा अलावा, रामकृष्ण कुसुमारिया, राजेंद्र सिंह, रामेश्वर नीखरा और पुरुषोत्तम डांगी, ये नेता टिकट वितरण पर गुस्से में थे। इनको शांत करवाने के लिए चुनाव प्रचार की जिम्मेदारी सौंपी गई है। दूसरी ओर धीरज पटेरिया, केएल अग्रवाल, राकेश सिंह और जीतेंद्र डागा ने बीजेपी छोड़ कांग्रेस का दामन थाम लिया है। सूत्रों के मुताबिक बीजेपी से नाराज चल रहे कई और नेता कांग्रेस में शआमिल हो सकते हैं। विधानसभा चुनाव में बीजेपी बड़ा झटका खा चुकी है। कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव में वह दस सीटें जीती जहां बीजेपी नेताओं ने पार्टी से बगावत की थी। इस बार बालाघाट से वर्तमान सांसद बोधसिंह भगत ने बागी होकर निर्दलीय चुनाव लड़ा है। बीजेपी प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल का कहना है कि कांग्रेस सत्ता में होने का लाभ उठा रही है। अग्रवाल ने कहा कि जो नेता बीजेपी से अलग होकर कांग्रेस में गए हैं वह जल्द वापस आ जाएंगे। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here