MP News : बारिश-ओलावृष्टि से फसलें चौपट, किसानों को लेकर BJP सांसद का बड़ा ऐलान

इसी कड़ी ने भी बीजेपी सांसद गजेंद्र पटेल ने  भी बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से खराब फसलो पर चिंता जताई, है और खरगोन- बड़वानी के किसानों को मदद का भरोसा दिया है।

MP

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP) में बीते दिनों हुई बारिश और ओलावृष्टि (Rain and Hailstorm) से कई जिलों के किसानों की फसलें बर्बाद हो गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने निर्देश पर कृषि मंत्री कमल पटेल (Agriculture Minister Kamal Patel) ने जिलों के कलेक्टर और कृषि उप संचालकों (Collector and Deputy Director of Agriculture) को सर्वे कराने के निर्देश दिये हैं।इसी कड़ी ने भी बीजेपी सांसद गजेंद्र पटेल ने  भी बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से खराब फसलो पर चिंता जताई, है और खरगोन- बड़वानी के किसानों को मदद का भरोसा दिया है।

यह भी पढ़े… VIDEO : अस्पताल की अचानक लिफ्ट गिरी, बाल बाल बचे कमलनाथ और कांग्रेस विधायक

दरअसल, पिछले दिनों शहर सहित अंचल मे हुई बेमोसम बारिश और अतिवृष्टि (MP Weather Update0 से खेतों में खड़ी फसलों(Crops) को भारी नुकसान पहुंचा है। मौसम की मार से बेहाल किसानों के दर्द को समझते हुए रविवार को भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा का राष्ट्रीय महामंत्री (National General Secretary of BJP Scheduled Tribe Front) और बीजेपी सांसद गजेंद्र पटेल  (BJP MP Gajendra Patel) ने खरगोन- बड़वानी (Khargone-Barwani) के किसानों(Farmers) को सन्देश जारी कर भरोसा दिलाया कि वे किसानों को नुकसान नही होने देंगे।

सांसद ने कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार किसानों की सरकार होकर उनके हित, अधिकारो के लिये काम कर रही है। किसानों की फसलें खराब हुई है, काफी नुकसान हुआ है। ऐसे में जिन किसानों का प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (Prime Minister Crop Insurance Scheme)  के तहत बीमा (Insurance) है, उन किसानों को सौ प्रतिशत फसल का क्लेम दिलाने के लिए पूरे प्रयास करूंगा। चाहे इसके लिए मुझे आर-पार की लड़ाई भी लडनी पड़े तो पीछे नहीं हटूंगा। इसके लिए किसानों को भी जागरूक होकर अपना हक मांगने का अधिकार है। राजस्व अधिकारियों को सर्वे कर किसानों को फसल बीमा का पूरा लाभ दिलाने के निर्देश दिए।

यह भी पढे.. MP Weather Update : मध्य प्रदेश में फिर बादल छाने के आसार, इन जिलों में हो सकती है बारिश

उल्लेखनीय है कि मावठे की बारिश ओर ओलावृष्टि से खेतों में लगभग पककर तैयार हो चुकी गेहूं, चना, मिर्च सहीत प्याज कई फसलो को नुकसान हुआ है। जिसके कारण उत्पादन पर असर पड़ना लाजमी है।