MP Politics: ज्योतिरादित्य सिंधिया को हराने वाले BJP सांसद केपी यादव को नई जिम्मेदारी

स्वतंत्रता दिवस(Independence day 2021) से एक दिन पहले भाजपा ने बहु प्रतिक्षित प्रवक्ताओं की लिस्ट जारी कर दी। इसमें 17 प्रवक्ताओं में तीन सांसदों महेंद्र सिंह सोलंकी, सुमेर सिंह सोलंकी और केपी यादव को शामिल किया गया है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। आगामी चुनावों से पहले मध्य प्रदेश भाजपा (MP BJP) की तैयारियां जोरों शोरों से चल रही है। अब बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा ने अपनी टीम तैयार कर ली है और कार्यकारिणी की घोषणा भी कर दी गई है।इसके तहत शनिवार को प्रदेश सह मीडिया प्रभारी और प्रवक्ताओं की सूची जारी की गई है। इसमें 17 पार्टी प्रवक्‍ता नियुक्त किए है, जिसमें गुना शिवपुरी संसदीय क्षेत्र से ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) को पिछला लोकसभा चुनाव हराने वाले भाजपा सांसद केपी यादव (BJP MP KP Yadav) को भी शामिल किया गया है।

यह भी पढ़े… स्वतंत्रता दिवस: सीएम शिवराज ने किए कई बड़े ऐलान, बोले-27% आरक्षण दिलाने हम प्रतिबद्ध

स्वतंत्रता दिवस(Independence day 2021) से एक दिन पहले भाजपा ने बहु प्रतिक्षित प्रवक्ताओं की लिस्ट जारी कर दी। इसमें 17 प्रवक्ताओं में तीन सांसदों महेंद्र सिंह सोलंकी, सुमेर सिंह सोलंकी और केपी यादव को शामिल किया गया है। इसके अलावा सीनियर विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया, पूर्व मंत्री अर्चना चिटनिस और केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे से पंकज चतुर्वेदी को प्रवक्ताओं की सूची में जगह मिली है।इसमें सबसे खास बात यही है कि इस लिस्ट में लोकसभा चुनाव 2019 में गुना संसदीय सीट से ज्योतिरादित्य सिंधिया को करारी शिकस्त देने वाले बीजेपी सांसद केपी यादव को प्रवक्ताओं की सूची में शामिल किया गया है।

बता दे कि वर्तमान में बीजेपी सांसद केपी यादव पेशे से एमबीबीएस डॉक्टर (MBBS) हैं, उनके प‍िता अशोकनगर में कांग्रेस के ज‍िलाध्यक्ष रहे हैं। केपी यादव कभी ज्योत‍िराद‍ित्य स‍िंध‍िया करीबी माने जाते थे और लोकसभा चुनावों के दौरान स‍िंध‍िया की चुनाव तैयार‍ियों देखा करते थे।2018 में हुए पिछले विधानसभा चुनाव में मुंगावली सीट को लेकर हुई अनबन के बाद केपी ने कांग्रेस छोड़ बीजेपी का दामन थाम लिया और लोकसभा चुनावों में सिंधिया को 1 लाख से ज्यादा वोटों से करारी मात दी।

यह भी पढ़े.. VIDEO: प्रभारी मंत्री के पास खड़ा आरक्षक बेहोश होकर गिरा, कार्यक्रम चलता रहा

वही ग्वालियर चंबल अंचल ज्योतिरादित्य सिंधिया का परंपरागत गढ़ माना जाता है, ऐसे में सालों में यह पहला मौका था जब सिंधिया अपने ही प्यादे से लोकसभा चुनाव में लाखों के अंतर से हार गए।अब चुंकी सिंधिया ने बीजेपी का दामन थाम लिया और राज्सभा सांसद के साथ केंद्रीय मंत्री भी बन गए है, इसके बावजूद दोनों के बीच की कडवाहट कम नहीं हुई है, हालांकि दोनों को अब कार्यक्रमों में साथ देखा जाने लगा है।इसी बीच सिंधिया समर्थकों के साथ सांसद केपी यादव भी अब टीम वीडी का हिस्सा बन गए है।

 

MP Politics: ज्योतिरादित्य सिंधिया को हराने वाले BJP सांसद केपी यादव को नई जिम्मेदारी