MP उपचुनाव 2020 : संघ के सर्वे से भाजपा में उत्साह, कमजोर सीटों पर सुधार

पर्दे के पीछे चुनावी प्रबंधन की धार तेज की गई। वही बड़े नेताओं की चुनावी सभाएं कराने के साथ बूथ कार्यकर्ताओं के सम्मेलन भी किए गए। पार्टी सूत्र बताते हैं कि इससे कमजोर सीट पर पार्टी उम्मीदवारों की स्थिति में सुधार हुआ है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। MP उपचुनाव (By-election) के लिए मतदान की तारीख (Voting Date) करीब आने के साथ ही जीत को लेकर भाजपा (BJP) का उत्साह बढ़ता जा रहा है। यह उत्साह संघ की ताजा अंदरूनी रिपोर्ट के बाद और बढ़ गया है। संघ की ताजा सर्वे रिपोर्ट (Survey report) में पार्टी की कमजोर सीट पर स्थिति में सुधार आया है। इस खबर से कांग्रेस में हलचल तेज हो गई है।

एक पखवाड़े पहले संघ ने अपनी रिपोर्ट में ग्वालियर चंबल क्षेत्र (Gwalior Chambal Area) की 6 सीटों पर BJP की स्थिति डावाडोल और 3 सीटों को फसी हुई बताया गया था। इसके बाद भाजपा के रणनीतिकारों ने नए सिरे से रणनीति को अंजाम दिया था। पार्टी ने अपने समूचे दिग्गजों को चुनाव प्रचार में उतार दिया था। खासतौर से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan), केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) की इस संकट वाली सीटों पर रोजाना एक-एक सफाई कराई जा रही है। इसके अलावा पर्दे के पीछे चुनावी प्रबंधन की धार तेज की गई। वही बड़े नेताओं की चुनावी सभाएं कराने के साथ बूथ कार्यकर्ताओं के सम्मेलन भी किए गए। पार्टी सूत्र बताते हैं कि इससे कमजोर सीट पर पार्टी उम्मीदवारों की स्थिति में सुधार हुआ है।

सभी 28 सीट जीतने का दावा
भाजपा के एक बड़े नेता का दावा है कि अभी चुनाव प्रचार में 8 दिन का समय बाकी है, इसमें स्थिति और सुधार ली जाएगी। उनका दावा है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में पार्टी पूरी 28 सीट जीतने जा रही है।