सिंधिया के गढ़ में बसपा को एक और झटका, अब इस नेता ने थामा ‘हाथ’

bsp-loksabha-prabhari-prakash-singh-join-congress-in-guna-in-front-of-scindia

गुना| विजय कुमार जोगी| लोकसभा चुनाव को लेकर सियासत का पारा उछाल मार रहा है| वहीं नेताओं का दल बदलने का दौर भी जारी है| गुना लोकसभा सीट जोकि मध्य प्रदेश की हाईप्रोफाइल सीटों में से एक हैं, यहां रोजाना नए घटनाक्रम से सियासत गरमाई हुई है| बसपा प्रत्याशी के कांग्रेस में शामिल होने के बाद मचे बवाल और बसपा सुप्रीमो की कमलनाथ सरकार को समर्थन वापसी की चेतावनी के बीच कांग्रेस ने एक और झटका बसपा को दे दिया| बसपा के लोकसभा प्रभारी प्रकाश सिंह ने देर शाम कांग्रेस का दामन थाम लिया| 

बता दें कि इससे पहले गुना लोकसभा सीट से बसपा के उम्मीदवार रहे लोकेंद्र सिंह राजपूत ने भी ज्योतिरादित्य सिंधिया से प्रभावित होकर बसपा छोड़ कांग्रेस का दामन थाम लिया| जिसको लेकर काफी विवाद भी हुआ और बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट करके कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि अब मध्य प्रदेश सरकार को समर्थन देने के मामले में ���ुनर्विचार करने की आवश्यकता है| अब देखने वाली बात यह होगी कि लोक लोकसभा प्रभारी के कांग्रेस में आने से क्या नए समीकरण सामने निकल कर आते हैं| 

वहीं बसपा छोड़ कांग्रेस में आये प्रकाश सिंह ने मंच से सिंधिया का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि मैंने सम्मान के लिए बसपा को छोड़ा है और सिंधिया जी के कामों से हमें प्रभावित होकर कांग्रेस में आया हूं | बता दें कि कई दिनों से प्रकाश सिंह कांग्रेस के कई नेताओं के संपर्क में थे और गुना लोकसभा सीट से लोकेंद्र सिंह राजपूत ने जब कांग्रेस का दामन थाम लिया तो कहीं ना कहीं इस बात के कयास और कांग्रेस के नेता में कानाफूसी भी चल रही थी कि प्रकाश सिंह भी कांग्रेस का हाथ थाम सकते हैं| गुरूवार दोपहर को वे कांग्रेस में शामिल हुए बसपा प्रत्याशी लोकेंद्र सिंह राजपूत की प्रेस कांफ्रेंस में दिखाई दिए। यहां जब उनसे पूछा गया कि क्या वे भी बसपा का दामन छोड़ रहे हैं। इस पर उन्होंने कहा कि वे निजी वजहों से आए हैं। हालांकि इस दौरान उनकी कांग्रेस महासचिव योगेंद्र लुंबा से चर्चा चलती रही। शाम को वे कैंट में सिंधिया की सभा के दौरान कांग्रेस में शामिल हो गए।