बसपा विधायक का बड़ा आरोप- सरकार गिराने BJP दे रही 50-60 करोड़ के ऑफर

bsp-mla-ramabai-alleges-bjp-offering-rs-50-60-crore-and-minister-post-per-mla

भोपाल। मध्य प्रदेश में सरकार की स्थिरता को लेकर उठ रहे सवालों के बीच बीजेपी पर विधायकों की खरीद फरोख्त के आरोप लग रहे हैं।अब कमलनाथ के मंत्री के बाद बीएसपी की तेज़ तर्रार विधायक रमाबाई ने भाजपा पर विधायकों को खरीदने का आरोप लगाया है। रामबाई का कहना है कि बीजेपी लगातार विधायकों को तोड़ने की कोशिश कर रही है।  मुझे भी मंत्री पद और रुपये देने की पेशकश की गई थी लेकिन मैंने मना कर दिया। रामबाई के आरोप के बाद एक बार फिर प्रदेश की सियासत गर्मा गई है, चुंकी एक दिन पहले ही कांग्रेस विधायक दल की बैठक में विधायकों ने सरकार को पांच साल का समर्थन देने का प्रस्ताव पारित किया था। इससे पहले कमलनाथ सरकार में मंत्री प्रदुम्न सिंह ने 25 से 50  करोड़ के पेशकश करने का आरोप लगाया था।

दरअसल, आज एक न्यूज एजेंसी से बात करते हुए बसपा विधायक रामबाई ने कहा कि बीजेपी हर विधायक को ऑफर कर रही हैं, लेकिन कोई मूर्ख ही होगा जो उनकी बातों में आएगा। मेरे पास भी एक फोन आया था। उन्होंने मुझे मंत्री पद और पैसे दोनों की बात की। उन्होंने 50-60 करोड़ रुपए देने की बात की। उन्होंने कहा कि बीजेपी की तरफ से हर रोज उन्हें प्रलोभन मिल रहे रहे हैं। दिन में कम से कम दो से तीन बार बीजेपी की तरफ से कॉल आ रहे हैं। इतना ही नहीं लगातार आ रहे कॉल से परेशान होकर विधायक रामबाई ने आ रहे नंबर को ब्लॉक भी कर दिया।रामबाई ने यहां तक बताया कि मेरे बेटे का दिल्ली में इलाज चल रहा है। उस दौरान भी एक बड़े नेता वहां पर भी आफर लेकर पहुंच गए थे। हालाँकि उन्होंने उन नेताओं के नामों का खुलासा नहीं किया है।

बता दे कि इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवराज सिंह चौहान ने खरीद फरोख्त के आरोपों को नकारते हुए कहा था ‘बीजेपी किसी प्रकार की तोड़फोड़ और खरीद-फरोख्त में विश्वास नहीं रखती है। हम ऐसा नहीं करेंगे, लेकिन कांग्रेस के अंतर्विरोध और जिन्होंने उनको समर्थन दिया है, उन्हीं के कुछ कारणों से कुछ भी हो सकता है।’

हम सरकार के साथ 

इससे पहले मीडिया से चर्चा करते हुए रामबाई ने कहा था कि सरकार अब कहां से मंत्रिमंडल का विस्तार करेगी। उसे समर्थन करने वाले विधायकों को पहले ही तवज्जो देना थी। सरकार पर संकट आने से पहले सपा-बसपा और निर्दलीय विधायकों को साध लेना था। हालांकि रमाबाई ये भी बोलीं कि कमलनाथ सरकार पर कोई संकट नहीं है। समर्थन देने वाले विधायक कांग्रेस सरकार के साथ हैं। उन्होंने कहा विधायक दल की बैठक में मंत्रिमंडल विस्तार पर कोई चर्चा नहीं हुई। उन्हो���ने यह भी कहा कि सभी विधायक कमलनाथ के साथ है लेकिन बीजेपी भ्रम फैलाने की कोशिश कर रही है |

कमलनाथ के मंत्री भी लगा चुके है आरोप

इससे पहले  प्रदेश सरकार के मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने बीजेपी पर खरीद-फोरख्त का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि  बीजेपी सरकार गिराने की कोशिश में है और कांग्रेस विधायकों को खरीदने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा  था कि विधायकों को 50 करोड़ रुपए का ऑफर दिया जा रहा है, लेकिन हमारा कोई साथी बिकने वाला नहीं है। वो एक-एक विधायक को 25 करोड़ रुपए का ऑफर दे रही है. मना करने पर वो 50 करोड़ रुपए देने के लिए तैयार है, लेकिन हमारा कोई साथी बिकने वाला नहीं है। उनका कहना था कि व्यापम, ई-टेंडरिग सहित कई घोटालों में बीजेपी नेता फंस रहे हैं इसलिए सरकार गिराने की कोशिश बीजेपी कर रही है।

बसपा विधायक का बड़ा आरोप- सरकार गिराने BJP दे रही 50-60 करोड़ के ऑफर