उपचुनाव : कमलनाथ का ग्वालियर दौरा निरस्त, BJP का तंज- किस मुँह से आयेंगे, दिया क्या है

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ (PCC Chief Kamalnath) का 12 सितंबर का प्रस्तावित दौरा निरस्त हो गया है इसकी वजह इसी दिन AICC की महत्वपूर्ण बैठक होना बताया गया है जिसमें कमलनाथ शामिल होंगे। उधर भाजपा ने कमलनाथ का दौरा निरस्त होने पर तंज कसा है। सिंधिया समर्थक मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Minister Pradyuman Singh Tomar) का कहना है कि “कमलनाथ जी किस मुँह से ग्वालियर आयेंगे, उन्होंने दिया क्या है”

अपनी पार्टी की चुनावी गतिविधियों की समीक्षा करने और नेताओं के बीच चल रही नूरा कुश्ती पर रोक लगाने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ 12 सितंबर को ग्वालियर आने वाले थे , इस दौर में भाजपा के असंतुष्ट नेताओं के भी कांग्रेस में शामिल होने की सूचना थी लेकिन उनका ये दौरा निरस्त हो गया है। दौरा निरस्त होने की जानकारी देते हुए पूर्व मन्त्री सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि कमलनाथ का दौरा संभावित था लेकिन दौरे के बीच AICC की कुछ महत्वपूर्ण बैठकें आ गयी है, जिसमें कमलनाथ का शामिल होना जरूरी है जिसके चलते संभावित दौरा निरस्त हुआ है।

भाजपा ने कसा तंज ” किस मुँह से आयेंगे, दिया क्या है ग्वालियर को”

कमलनाथ का ग्वालियर दौरा निरस्त होने पर भाजपा ने तंज कसा है। प्रदेश सरकार के ऊर्जा मंत्री एवं सिंधिया समर्थक नेता प्रद्युम्न सिंह तोमर ने एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ से बात करते हुए कहा कि” कमलनाथ जी किस मुँह से ग्वालियर की जनता का सामना करेंगे, उन्होंने ग्वालियर के लिए दिया क्या है, जब वे मुख्यमंत्री थे तब नहीं आये, जब ग्वालियर के विकास के लिए पैसा मांगा तो नहीं दिया। ना स्वास्थ ना, चंबल एक्सप्रेस वे और ना कोई अन्य योजना के लिए पैसा दिया तो अब वो आकर जनता के सामना कैसे करेंगे। इसलिए नहीं आ रहे।

कांग्रेस बोली खुश फहमी पालने वाले जल्दी हाशिये पर होंगे

कमलनाथ का दौरा निरस्त होने के बाद भाजपा की टिप्पणियों का कांग्रेस ने करारा जवाब दिया है। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता एवं ग्वालियर चंबल संभाग के मीडिया प्रभारी केके मिश्रा ने एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ से बात करते हुए कहा कि दौरा निरस्त नहीं हुआ है रद्द हुआ है निरस्त नहीं हुआ है, जल्दी ही दूसरी तारीख घोषित की जायेगी। उन्होंने कहा कि “खुशफहमी पालने वाले जल्दी ही कमलनाथ जी के दौरे के बाद हाशिये पर आ जायेंगे”।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here