सरकार के इस एक्शन से तिलमिलाई कांग्रेस, पूर्व मंत्री बोले-BJP में भ्रष्टाचार की गंगोत्री

ग्वालियर।अतुस सक्सेना।

कमलनाथ सरकार (kamalnath) में हुए घोटालों की जांच के लिए “ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स” (“Group of Ministers”) बनाये जाने की घोषणा के बाद कांग्रेस तिलमिला गई है। कांग्रेस (congress) का कहना है कि हम चुनौती देते हैं जिसपर शक है उसकी जांच करवा लो हम स्वागत करेंगे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह (Chief Minister Shivraj Singh) की मंशा के मुताबिक गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Dr. Narottam Mishra) ने भोपाल में घोषणा की कि कांग्रेस की कमलनाथ सरकार के कार्यकाल में हुए घोटालों की जांच कराने के लिए “ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स” के नाम से एक कमेटी बनाई जायेगी जो पिछली सरकार के भृष्टाचार को उजागर करेगी। शिवराज सरकार का खास फोकस थोक बंद तबादलों पर है सरकार का मानना है कि इसमें बड़े पैमाने पर भृष्टाचार किया गया है। गृह मंत्री की घोषणा के बाद कांग्रेस तिलमिला गई है वरिष्ठ विधायक और पूर्व कैबिनेट मंत्री डॉ गोविंद सिंह ने डॉ नरोत्तम मिश्रा पर पलटवार किया है।

डॉ गोविंद सिंह ने कहा कि डॉ नरोत्तम मिश्रा वरिष्ठ मंत्री हैं उनका इस तरह की बात करना उचित नहीं है। उनके ज्ञान और बुद्धि पर मुझे तरस आता है। ट्रांसफर कोई भृष्टाचार की जड़ नहीं है। जो व्यक्ति सरकार में है या जो सरकार चलाने वाले हैं ये उनकी ड्यूटी है कि किसको कहाँ उपयोगिता के हिसाब से जिम्मेदारी दी जाए, उसका ट्रांसफर किया जाए, ये उनका दायित्व है। उन्होंने कहा कि जहाँ तक भाजपा की बात है तो भाजपा में भृष्टाचार की गंगोत्री रही है । ऐसा कोई विभाग नहीं है जिसको इन्होंने लूटा ना हो। पूर्व मंत्री ने कहा कि मैं चुनौती देता हूँ कि कांग्रेस के जिन नेताओं पर इन्हें शक है उनकी जाँच करा लें मैं स्वागत करूँगा।

सौदागरों का मंत्रिमंडल होगा

दूसरे मंत्रिमंडल विस्तार की अटकलों पर पूर्व मंत्री डॉ गोविंद सिंह ने कहा कि ये मंत्रिमंडल सौदागरों का मंत्रिमंडल होगा। क्योंकि खरीद फरोख्त कर सत्ता हथियाई है। जिन्होंने अपना ईमान धरम बेचकर जनता की खून पसीने की कमाई के साथ सौदेबाजी की है प्रदेश की जनता के साथ गद्दारी की है उन्हें जनता सबक सिखायेगी। जो भी मंत्री बनेगा चुनाव में उसका सूपड़ा साफ होगा। जनता लोहा गरम करे बैठी है बस उस चोट करना बाकी है। गोविंद सिंह ने दावा किया कि चुनावों में कांग्रेस की जीत होगी और एक बार फिर कमलनाथ जी की सरकार बनेगी।