मप्र में बदला मौसम, यहां तेज बारिश के साथ गिरे ओले

Changed-weather-in-M-P-

भोपाल| मध्य प्रदेश में एक बार फिर मौसम बदल रहा है| प्रदेश में कई जगह पर बेमौसम बारिश और ओले गिरने की संभावनाएं जताई गई है| इस बीच बुधवार को मंदसौर जिले में जोरदार बारिश के साथ ओलावृष्टि हुई है| मौसम में अचानक हुए इस बदलाव के चलते पिछले दो दिनों से लगातार बढ़ रहे तापमान के गिरने की संभावना है। मंदसौर के अलावा मप्र के कई शहरों में भी बुधवार को बादल छाए रहे। अगले दो दिनों में बेमौसम बारिश जहां एक बार फिर सर्दी बढ़ा सकता है, वहीं किसानों को भी बड़ा नुकसान दे सकता है| मौसम विभाग ने बारिश और ओले गिरने की संभावनाएं जताई है|

मंदसौर जिले के दलौदा, शामगढ़, करजू में तेज बारिश हुई है। वहीं अफजलपुर में मक्के के आकार के ओले गिरे हैं। पिछले एक दो दिनों से लोगों को ठंड से राहत मिली थी। लेकिन अचानक हुई इस बारिश के बाद पारे के लुढ़कने की आशंका जताई जा रही है। बारिश की वजह से मंदसौर की दलौदा मंडी में खुले में रखा लहसुन भी भीग गया है। वहीं अचानक आई तेज बारिश की वजह से वक्त ही नहीं मिला और खुले में रखा हजारों क्विंटल लहसुन पानी में भीग गया। शाम लगभग 4 बजे प्रारंभ हुई बारिश का दौर लगभग एक घंटे तक जारी रहा।

मौसम विभाग के अनुसार ईरान-पाकिस्तान से जम्मू-कश्मीर तक बने पश्चिमी विक्षोम से आए बादलों ने मालवा-निमाड़ के साथ ही पूरे प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों को ढक लिया है। दिन के मुकाबले दखनी हवाओं ने रात को गरमा दिया है। हालांकि बुधवार शाम को मंदसौर में हुई बारिश का असर मालवा-निमाड़ के कुछ क्षेत्रों में पारे पर पड़ेगा। मौसम वैज्ञानिक के अनुसार एक पश्चिमी विक्षोभ बन रहा है, जो 13 फरवरी से एक्टिव हो गया है है। इसका असर 14 फरवरी को मप्र में दिखाई देगा। राजधानी में भी इसके कारण ओले गिरने की संभावना है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि आने वाले दो दिनों में उज्जैन, भोपाल, इंदौर, होशंगाबाद, विदिशा, रायसेन, सीहोर, राजगढ़ समेत कई जिलों में बारिश होने का अनुमान है। इन जिलों में कहीं-कहीं ओले भी गिर सकते हैं। वर्तमान में एक सिस्टम बना था, लेकिन वह कमजोर पड़ गया। इसके कारण तापमान में मामूली बढ़ोतरी हो रही है।

इंदौर संभाग के जिलों में सामान्य से काफी अधिक, भोपाल, उज्जैन एवं चंबल संभाग के जिलों में सामान्य से अधिक तथा बाकी संभागों के जिले सामान्य रहे। प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 7 डिग्री सेल्सियस खजुराहो में दर्ज किया गया। प्रदेश की राजधानी भोपाल में आज भी दिन के पहर में ठंड का असर नहीं रहा, लेकिन शाम के बाद यहां मामूली रुप से ठंड महसूस की गई । यहां अगले 24 घंटों के दौरान आकाश की स्थिति आंशिक रुप से मेघमय बनी रह सकती है। इसके अलावा यहां गरज चमक के साथ हल्की बारिश हो सकती है। वहीं, प्रदेश में बदलते मौसम के कारण किसानों की चिंता बढ़ गई है। ओलावृष्टी से खड़ी फसलें खराब होने की आशंका है। जिससे किसान को रह रह कर चिंता सता रही है।