सीएम कमलनाथ ने पेश किया 70 दिनों का रिपोर्ट कार्ड, 83 वचन पूरे

cm-Kamal-Nath-Government-presented-70-days-report-card

भोपाल। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने लोकसभा चुनाव से पहले सरकार के 70 दिनों का रिपोर्ट कार्ड जनता के सामने रखा| मंत्रालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सीएम ने अब तक किये गए  फैसलों और कामकाज के बारे में बताया| कमलनाथ ने बताया कि 25 लाख किसानों का 10 हजार करोड़ का कर्जा माफ़ किया गया है। हमने ये काम तब किया, जब प्रदेश का खजाना खाली था। उन्होंने कहा हमें 25 दिसंबर को भाजपा ने ऐसा राज्य सौंपा था। जो किसानों की आत्महत्या में नंबर वन था। जो महिला अपराध के मामले में नंबर वन था। ऐसे राज्य को हमने पटरी पर लाने का काम किया है। अपनी सरकार का लेखा-जोखा पेश करने के दौरान कमलनाथ ने आदिवासियों को लेकर बड़ा ऐलान किया। उन्होंने कहा कि, आदिवासी वित्त विकास निगम और अनुसूचित जाति वित्त विकास निगम द्वारा दिए गए एक लाख तक के कर्ज को माफ किया जाएगा। इससे 83 फीसद लोग जुड़ेंगे।

सीएम ने कहा कल तक 25 लाख किसानों का कर्ज माफ हो जाएगा,  जय किसान ऋण माफी योजना के तहत 55 लाख किसानों का कर्ज माफ़ करने का लक्ष्य है|  उन्होंने बताया कि सरकार ने 76  दिनो मे 83 वचन पूरे किए हैं|  पिछड़ा वर्ग को 27 फीसदी और गरीब सवर्णो को 10 फीसदी आरक्षण दिया जाएगा|  प्रदेश मे अभी एससी एसटी को  22.5% और पिछङो को 14 फीसदी आरक्षण मिल रहा है|   उद्योगो के लिये हर सेक्टर की अलग निवेश नीति होगी|  इन्दौर मे कन्फेक्शनरी पार्क बनाया जाएगा| इसके लिए जमीन चिन्हित कर ली गई है। मुख्यमंत्री ने साफ किया कि उनकी सरकार की मंशा है कि वो प्रदेश को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का हब बनाए। वहीं गारमेंट सैक्टर पर भी सरकार का फोकस है। वहीं इंदिरा किसान ज्योति योजना शुरू की गई है। इसके तहत दस हॉर्स पावर तक के पंपों के लिए आधी दरों पर बिजली की सुविधा दी गई है। अब किसानों को हर साल प्रति हॉर्स पावर 1400 रुपए के बजाए 700 रुपए ही देने होंगे। व्यवस्था में परिवर्तन के लिए हमने काउंसिल ऑफ गुड गर्वेंनस बनाई है।  मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा पान की खेती करने वाले किसानों के लिए 500 बांस निस्तारित दर पर उपलब्ध कराए जाएंगे। इससे 5000 किसानों को फायदा होगा|

देश को गुमराह कर रही मोदी सरकार

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भाजपा की पूर्ववर्ती सरकार पर भी निशाना साधा| उन्होंने 15 साल तो केंद्र सरकार से पांच साल का हिसाब देने की मांग की। वहीं देश के सुरक्षा के मुद्दे पर भी मुख्यमंत्री कमलनाथ ने केंद्र सरकार को कोसा। उन्होंने कहा कि पिछले पांच सालों में देश में कई बड़ी आतंकी घटनाएं हुईं है। संसद से लेकर पुलवामा में किसकी सरकार के वक्त हमला हुआ। ये सबको पता है। उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार पर गुमराह करने का आरोप लगाया। भाजपा देश को राष्ट्रवाद का पाठ पढ़ा रही है। पिछले 70 सालों में देश सुरक्षित नहीं था यह कह देना गलत  है, यह जो राष्ट्रवाद का पाठ पढ़ाने आए हैं एक स्वतंत्र सेनानी का नाम नहीं बता सकते हमें उम्मीद है | जिस तरह मध्य प्रदेश की जनता ने कांग्रेस पर विश्वास रखा था उसी तरह लोकसभा  चुनाव में भी कांग्रेस के पक्ष में बहुत अच्छा परिणाम आने वाला है|  व्यापम के आरोपियों पर कार्यवाही ज़रूर होगी | एयर स्ट्राइक पर सबूत के सवाल पर बोले सीएम  हमले में जो कार्यवाही हुई है उसे जनता के सामने पेश करने में क्या बुराई हैं|  उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि वह कह रहे हैं कि उनके नेतृत्व में देश सुरक्षित है तो हम पूछना चाहते हैं कि पहले क्या देश असुरक्षित था वे जनता को गुमराह कर रहे हैं जो ठीक नहीं है। आजादी के बाद जितने भी सैनिक संस्थान खोले हैं, क्या वह मोदी सरकार ने खोले हैं?पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर उन्होंने कहा कि इस मसले को लेकर शंकाएं हो रही हैं। ऐसा नहीं है कि सर्जिकल स्ट्राइक पहले कभी नहीं हुई है कोई सबूत नहीं मांग रहा है अंतर्राष्ट्रीय एजेंसियां इस पर चर्चा कर रही हैं। वायु सेना प्रमुख ने भी बताया कि जो टारगेट ने दिया गया था, वह उन्होंने हिट किया। सत्संग का विषय स्ट्राइक बन गया है तो सरकार को देश के सामने सब देना चाहिए। इसमें गुप्त रखने जैसी कोई बात तो है नहीं।

सीएम की प्रेस कॉन्फ्रेंस की प्रमुख बातें…

-आदिवासी वित्त विकास निगम द्वारा 2014-15 तक के वितरित ऋण माफ होंगे।

-1 लाख रुपए तक के ऋण माफ किए जाएंगे।

-32000 अनुसूचित जाति एवं जनजाति के युवाओं को मिलेगा लाभ।

-पान की खेती वाले कोसनों को भी मिलेगा लाभ।

-500 बॉस तक तक निस्तारित दर पर उपलब्ध कराया जाएगा।

-इंदौर में कन्फेक्शनरी पार्क खोलने की घोषणा की।

-जब तक कुछ कहने लायक बात ना हो तब तक प्रेस वार्ता नही रखी : कमलनाथ

-76 दिन हुए मंत्री मंडल गठन के।

-25 दिसंबर को हमे ऐसा प्रदेश सौप था जिसकी तिजोरी खाली थी।

-प्राथमिकता तय की की प्रदेश की अर्थव्यवस्था को ठीक करेंगे।

-जो हमने वचन दिया था उसमें हम आगे बढ़े।

-कल शाम तक 25 लाख किसानों का कर्ज माफ हो जाएगा।

-इनमे कुछ किसान ऐसे है जिनकी मृत्यु हो गई।

-हमारा लक्ष्य है कि प्रदेश के 50 लाख किसानों का कर्ज माफ करेंगे।

-बिजली 100 रुपए 100 यूनिट तक देंगे उसके ऊपर 200 रुपए।

-76 दिनों में हमने अपने 83 पॉइंट अपने पूरे किए है वचन पत्र के।

-पिछड़ी जाति का आरक्षण हमने 27% लागू कर दिया है।

-व्यवस्था में परिवर्तन में हम काउंसिल ऑफ गुड गवर्नेंस लागू करेंगे।

-निवेश नीति के साथ सेक्टर स्पेसिफिक नीति भी लागू करेंगे।

– थोक में ट्रांसफर मामले पर बोले कमलनाथ, कइयों ने तो भाजपा का बिल्ला अपनी जेब मे रख कर काम किया है, तो ट्रांसफर क्यों नही होंगे।

-नई सरकार बनने पर ट्रांसफर तो होते ही है और आगे इससे भी ज्यादा ट्रांसफर होंगे।