भोपाल। नए साल में होने वाली कैबिनेट बैठक में मुख्यमंत्री कमलनाथ अफसरों से मुलाकात कर साल भर की योजनाओं पर चर्चा करेंगे। इसके लिए तीन जनवरी को मंत्रालय में एक बैठक बुलाई गई है। इसमें अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव, सचिव और विभागाध्यक्ष शामिल होंगे। इस दौरान वह अफसरों से नए साल में किए जाने वाले जरूरी काम और सालभर के रोडमैप के बारे में रणनीति पर बात करेंगे।  इस बैठक में सीएम अफसरों से वन टू वन चर्चा भी करेंगे। 

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मुख्यमंत्री दो या तीन जनवरी को भोपाल लौटेंगे। इसलिए बैठक का समय शाम 6 बजे का रखा गया है। बताया जा रहा वचन पत्र के मुताबिक किए गए वादों को लेकर वह अब दूसरे साल के कामकाज के बारे में अधिकारियों के साथ चर्चा करेंगे।  इसके लिए मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव कार्यालय ने चर्चा के बिंदु तय करने की तैयारी शुरू कर दी है। वहीं, वर्ष 2019 में हुए काम और जो कमियां सामने आईं हैं, उन्हें भी रखा जाएगा। सरकार के सामने सबसे बड़ी चुनौती वित्तीय प्रबंधन की रहने वाली है।

इसको लेकर सभी विभागों को आय के स्रोत बढ़ाने और मितव्ययिता के टिप्स दिए जा सकते हैं। मुख्यमंत्री कार्यालय के अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री से तीन दिसंबर को जो भी अधिकारी मिलकर अपनी बात रखना चाहता है, इसके लिए वे वन-टू-वन मुलाकात भी करेंगे।

चार जनवरी को होगी कैबिनेट

सूत्रों के मुताबिक नए साल में कमलनाथ कैबिनेट की पहली बैठक चार जनवरी को मंत्रालय में होगी। इसमें उद्योगों को समयबद्ध स्वीकृति से जुड़े कानून का मसौदा मंजूरी के लिए रखा जा सकता है। उद्योग विभाग की तैयारी इसे अध्यादेश के जरिए लागू करने की है।