MP : युवा-सहायता समूह के लिए सीएम शिवराज की बड़ी घोषणा, 466 करोड़ का वितरण, हितग्राहियों को मिलेगा लाभ, लाखों पदों पर भर्ती

सीएम शिवराज ने कहा कि शासन का संकल्प है हर महीने विभिन्न कार्यक्रम के तहत ढाई लाख लोगों को आजीविका से जोड़ा जाएगा।

mp government
demo pic

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश (Aatmnirbhar madhya pradesh) के तहत मध्य प्रदेश (MP) के विकास की गति धीरे-धीरे आगे बढ़ रही है। सीएम शिवराज (CM Shivraj) द्वारा लगातार बड़ी घोषणा की जा रही है। वहीं घोषणाओं को जमीनी स्तर पर विस्तार करने की प्रक्रिया जारी है। सीएम शिवराज ने कहा कि मध्य प्रदेश का ऐसा राज्य है, जहां बेरोजगारी की दर सबसे कम है। वही हम मध्य प्रदेश को बेरोजगारी मुक्त बनाने के प्रयास में है। शिक्षा से लेकर रोजगार के साधन उपलब्ध कराए जाएंगे।

1 लाख सरकारी पदों पर भर्ती

सीएम शिवराज ने कहां है कि 1 साल के अंदर 100000 सरकारी नौकरी प्रदेशवासियों को दी जाएगी। इसके लिए लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसे प्रक्रिया में 18000 शिक्षकों को 4 सितंबर के दिन नियुक्ति पत्र प्रदान किया जाएगा। साथ ही इस प्रक्रिया को शुभारंभ करने की तैयारी भी कर दिया। बीते दिनों मंत्रालय में बैठक करते हुए सीएम शिवराज ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी विभाग के रिक्त पदों की जानकारी एकत्रित करें और उस पर प्रक्रिया को आगे बढ़ाएं।

हितग्राहियों को स्वरोजगार के लिए 466 करोड़ रुपए की सहायता

सीएम शिवराज ने कहा कि शासन का संकल्प है हर महीने विभिन्न कार्यक्रम के तहत ढाई लाख लोगों को आजीविका से जोड़ा जाएगा। राज्य स्तरीय रोजगार दिवस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम शिवराज ने कहा कि 75000 से अधिक हितग्राहियों को स्वरोजगार के लिए 466 करोड़ रुपए की सहायता उपलब्ध कराई गई है।

Read More : Teachers Appointment : 18 हजार शिक्षकों को मिलेगी नियुक्ति, तारीख की घोषणा, प्रशिक्षण के साथ CM देंगे नियुक्ति पत्र

टॉय क्लस्टर से बढ़ेंगे रोजगार के साधन

इतना ही नहीं इंदौर में दो करोड़ 84 लाख की लागत से मध्य भारत के पहले टॉय क्लस्टर का वर्चुअल शिलान्यास करते हुए भी सीएम शिवराज ने कहा कि 23 लाख हितग्राहियों को विभिन्न योजनाओं में अब तक लाभ दिया जा चुका है। टॉय क्लस्टर से रोजगार के नवीन साधन उपलब्ध होंगे। प्रदेश में 42 कलस्टर स्वीकृत किए गए हैं। 2000 से अधिक लोगों को रोजगार के साधन मिलेंगे। 20 लघु इकाई स्थापित होगी कलस्टर के प्रथम चरण में 80 करोड़ रुपए का निवेश संभावित है। मध्य प्रदेश के युवाओं को रोजगार के लिए बाहर जाने की आवश्यकता नहीं होगी।

स्व रोजगार हितग्राही ऋण

शिवराज ने कहा कि मोदी के नेतृत्व में देश विश्व पटल पर अपनी नवीन पहचान लिख रहा है। इस दिशा में मध्य प्रदेश सरकार भी लगातार युवाओं को स्वरोजगार के बेहतर अवसर प्रदान कर रही है । पहला रोजगार दिवस 12 जनवरी 2022 को आयोजित किया गया था। जिसमें 500000 से अधिक प्रदेशवासियों को योजनाओं में रोजगार देने की प्रक्रिया पूरी की गई थी। 31 मार्च तक 13 लाख युवाओं को विभिन्न योजनाओं के तहत 7000 करोड़ रुपए के ऋण स्वीकृत किए गए थे। इसके अलावा 1 अप्रैल से 22 अगस्त 2022 के बीच 952000 लोगों को 6000 करोड़ रुपए का ऋण स्वीकृत किया गया था।

स्व सहायता समूह

स्व सहायता समूह के लिए बोलते हुए शिवराज ने कहा कि महिलाएं ग्रामीण क्षेत्र के बजाय अब शहरी क्षेत्र में भी सक्रिय हो गई हैं व्यवसाय का टर्नओवर20000 करोड रुपए का हो गया। उत्पादों के निर्माण के लिए हर महा बैंक से ऋण उपलब्ध कराए जा रहे हैं।

सीएम शिवराज ने कहा कि शासन का लक्ष्य है कि पोषण आहार की फैक्ट्रियों का भी संचालन भी सहायता समूह की महिलाओं को अधिक से अधिक दिया जाए हर महिला अपने घरेलू कामकाज के लिए न्यूनतम 10000 प्रति माह अतिरिक्त आमदनी कर सके इसके लिए शासन द्वारा बड़े प्रयास किए जा रहे हैं।

एक्सपोर्ट हब

बड़ी घोषणा करते हुए सीएम शिवराज ने कहा कि विभिन्न औद्योगिक इकाई आईटी इंडस्ट्री, ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री, क्लस्टर, सेटअप, स्टार्टअप आदि प्रदेश में न केवल निवेश बढ़ा है बल्कि रोजगार के नए अवसर को भी बढ़ावा दे रहे हैं। ऐसे में जल्दी मध्य प्रदेश को एक्सपोर्ट हब बनाया जाएगा।