CM शिवराज ने VC के जरिये की योजना की शुरुआत, सिंगल क्लिक से नगरीय निकायों को भेजें 330 करोड़ रूपये

भोपाल।

अनलॉक 1.0(Unlock 1.0) और लॉकडाउन(lockdown) के पांचवे चरण के बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(shivraj singh chouhan) ने प्रदेश के 374 नगरीय निकायों एवं 5 छावनी परिषदों को 330 करोड़ रूपये की राशि भेजी है। इस पूर्व में आवंटित की गई राशि एक उपयोग पेयजल व्यवस्था, नाली निर्माण, सीवरेज कार्य, सड़क निर्माण, सड़क मरम्मत, गंदी बस्ती विकास, ठोस अपशिष्ट प्रबंधन, अग्निशमन सेवाओं आदि से संबंधित कार्य में किया जायेगा। वहीं सीएम शिवराज ने “शहरी पथ व्यवसायी उत्थान योजना” एवं ‘शहरी पथ विक्रेता पोर्टल’ का शुभारंभ भी किया।

दरअसल रविवार को मंत्रालय से वीडियो कान्फ्रेंसिंग(video conferencing) के माध्यम से संबोधित करते हुए कहा सीएम शिवराज(CM Shivraj) ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी(PM Narendra Modi) द्वारा प्रधानमंत्री पथ विक्रेता आत्मनिर्भर निधि प्रारंभ की गई है। सीएम चौहान ने आज शहरी पथ व्यवसायी उत्थान योजना की शुरुआत भी की। वीसी के माध्यम से प्रदेश के विभिन्न जिलों के पथ विक्रेताओं से बातचीत की। जहाँ उन्होंने बताया की पथ विक्रेताओं को विभन्न योजनाओं का लाभ पहुँचाने के लिए पोर्टल बनाया गया है। जहाँ पथ पर, गुमठी लगाकर, ठेला चलाकर व्यवसाय करने वालों का पोर्टल पर पंजीयन किया जायेगा। यह एकीकृत पोर्टल उन्हें विभिन्न योजनाओं का लाभ देगा। वहीं मुख्यमंत्री ने पथ विक्रेताओं से कहा कि वे इस पोर्टल पर अपना पंजीयन अवश्य करवायें।

शहरी पथ व्यवसायी उत्थान योजना में शहरी पथ व्यवसायियों को 10 हजार रूपये का ऋण दिया जायेगा। इसमें 7 प्रतिशत ब्याज अनुदान सहायता केन्द्र सरकार देगी। जिसके अंतर्गत शेष 5 प्रतिशत ब्याज की राशि राज्य सरकार भरेगी। जिससे हितग्राही को 10 हजार रूपये का ब्याज मुक्त ऋण मिल सकेगा। वहीं इसकी गारंटी सरकार देगी।