CM की विशेष पिछड़ी जनजाति के महिलाओं से चर्चा, खातों में जमा किये इतने करोड़ रुपये

भोपाल।

देशव्यापी लॉकडाउन(lockdown) के बीच प्रदेश की शिवराज(shivraj) सरकार न मंगलवार को विशेष पिछड़ी जनजाति सहरिया, भारिया बैगा के महिलाओं से वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग(video conferencing) के जरिये चर्चा की। जहाँ सीएम शिवराज(CM Shivraj) ने इन महिलाओं से इनका हाल चाल पूछा। वहीँ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(Shivraj singh chouhan) ने इन विशेष पिछड़ी जनजाति के महिलाओं के खाते में आहार अनुदान योजना के तहत करीबन 44 करोड़ 60 लाख 77 हजार रुपये जमा कराए हैं।

दरअसल मुख्यमंत्री(chiefminister) शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को सहरिया, भारिया बैगा के महिलाओं के साथ वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिये बात की। इसी बीच सीएम शिवराज ने इन क्षेत्रों में रहने वाली करीबन दो लाख 26 हजार 362 महिलाओं के खातों में 44 करोड़ 60 लाख 77 हजार रुपये जमा किये। ये रूपए आहार अनुदान योजना के तहत उन महिलाओं को दिए गए। वहीँ मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि कोरोना संकट के दौर में मैं मिलने नहीं आ पा रहा हूं लेकिन मुझे अपने आदिवासी भाई-बहनों की पूरी चिंता है। चौहान ने कहा कि मैं आपका भइया और बेटियों का मामा हूं। आप किसी भी प्रकार की चिंता न करें। आज राशि दी है आगे भी मिलती रहेगी। आप सुखी रहें और बच्चों को खूब पढ़ाएं। और इन रुपयों का उपयोग पौष्टिक भोजन में करें।

बता दें कि राज्य सरकार द्वारा विशेष पिछड़ी जनजाति के लिए बहुल प्रदेश के 15 जिलों में आहार अनुदान योजना चलाई जा रही है। इस योजना के तहत इस वर्ग को हर माह एक-एक हजार रुपये की सहायता दी जाती है। लेकिन पिछले कुछ महीनों से यह राशि नहीं मिल रही थी। मुख्यमंत्री ने मंगलवार को इन महिलाओं के खातों में अप्रैल और मई माह की राशि जमा की है। वहीँ सरकार ने इन जनजातियों के युवक-युवतियों को अलग से नौकरी देने की व्यवस्था की है।