Bharat Jodo Yatra : भारत जोड़ो यात्रा में कविता के रंग, अमृता राय ने लिया कवि संपत सरल की कविताओं का आनंद

Bharat Jodo Yatra : राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का आज 85वां दिन है और यात्रा उज्जैन से निकली है। राहुल मध्यप्रदेश में बुरहानपुर से खंडवा, खरगोन, इंदौर, उज्जैन से होते हुए करीब 382 किलोमीटर की पदयात्रा करते हुए यहां से राजस्थान पहुंचेंगे। मध्यप्रदेश में उनकी 13 दिन की यात्रा के दौरान कई रंग देखने को मिले। इनमें एक रंग हास्य कविता का भी रहा।

कवि संपत सरल विख्यात हैं..खासकर अपने चुटीले व्यंग्य के जरिए वो अक्सर सरकार के खिलाफ प्रतिरोध दर्ज कराते रहते हैं। उनकी कविताओं में मौजूदा सामाजिक और राजनीतिक स्थितियों का वर्णन होता है। संपत सरल भी भारत जोड़ो यात्रा में पहुंचे। यात्रा में उनकी एंट्री हुई जहां कमलनाथ ने उनका स्वागत किया और मंच पर उनका सम्मान भी किया। यहां कवि संपत सरल ने अपने चिर परिचित अंदाज़ में कविताएं पढ़ीं। उन्हें काफी पसंद किया गया। इसके बाद वो लोगों से से गुफ्तगू करते नजर आए। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की पत्नी अमृता राय ने भी यात्रा के बाद बैठकर संपत सरल की कविताएं सुनी और उनसे बात की

दिग्विजय सिंह भारत जोड़ो यात्रा के संयोजक हैं और वो हर जगह मौजूद हैं। मध्यप्रदेश में इस यात्रा में उनके परिवार के सदस्य भी लगातार नजर आ रहे हैं जिनमें उनकी पत्नी अमृता राय भी शामिल हैं। यात्रा में जब कवि संपत सरल शामिल हुए तो इसमें एक रचनात्मक पहलू भी जुड़ गया। खाली समय में यहां भी लोगबाग बैठकर बातें करते हैं और एक दूसरे से अपने अनुभव बांटते हैं। ऐसा ही एक नजारा था, जब अमृता राय सहित कुछ और लोग कवि से बात करते और उनकी कविताएं सुनते दिखे। इस दौरान कवि ने कवियों पर ही केंद्रित व्यंग्य कविता जिसका शीर्षक ‘हें हें हें हे’ था, सुनाई। इस कविता में मुगल सम्राट अकबर और कवि रहीम खानखाना के बहाने व्यंग्य बाण छोड़े गए हैं। इस दौरान अमृता राय काफी तल्लीनता से कविता सुनते हुए नजर आईं।