अपने नेता की दुकान बंद कराने पर भड़की कांग्रेस, सिंधिया समर्थक पूर्व मंत्री को दी धमकी

ग्वालियर।अतुल सक्सेना। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जिस कांग्रेस को यहाँ सींचा आज उसी कांग्रेस के नेता एक दूसरे के खिलाफ खड़े हैं वजह है सिंधिया का कांग्रेस से नाता तोड़ना। हालात ये हैं कि किसी भी मुद्दे पर वर्तमान सिंधिया समर्थक और पूर्व सिंधिया समर्थक एक दूसरे पर आरोप मढ़ने से नहीं चूकते। ताजा मामला डबरा का है जहाँ डबरा नगर पालिका परिषद प्रशासन द्वारा लीज अनुबंध की शर्तों का उल्लंघन बताते हुए कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष की दुकान को सील कर दिया। लेकिन कांग्रेस इसे सिंधिया समर्थक पूर्व मंत्री और डबरा की पूर्व विधायक इमरती देवी के इशारों पर की गई बदले की कार्रवाई बता रहे हैं। कांग्रेस जिला अध्यक्ष ने इमरती देवी से कहा है कि कांग्रेस चुप नहीं बैठेगी इसका जवाब जरूर मिलेगा।

दरअसल डबरा में तहसील रोड पर स्थित दुकानों में एक दुकान डबरा ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष जय प्रकाश शर्मा के नाम आवंटित है। जो उन्होंने 767/- प्रतिमाह के हिसाब से लीज पर ले रखी है। 29 अप्रैल को मुख्य नगर पालिका अधिकारी, नगर पालिका परिषद के आदेश पर इस दुकान को सील कर दिया गया और इसकी सूचना दुकान पर चस्पा कर दी गई। दुकान सील करने की वजह बताते हुए चस्पा किये गए आदेश में कहा गया कि जय प्रकाश शर्मा ने मई 2019 से दुकान का किराया नहीं किया है। लीज अनुबंध शर्तों के तहत दुकान जिस हालत में है वैसी ही रहेगी और परिवर्तन यदि किया जायेगा तो परिषद से अनुमति लेनी होगी, दुकान जिसे आवंटित हुई है वो किराये पर किसी अन्य को नहीं दे सकेगा और जिस काम के लिए दुकान आवंटित की गई है उसमें वही काम किया जायेगा। लेकिन इन सभी शर्तों का उल्लंघन जय प्रकाश शर्मा ने किया। कई बार उन्हें स्मरण पत्र भेजा गया जिसे नजर अंदाज कर दिया गया जिसे बाद अधिकारियों ने दुकान को सील कर दिया।

उधर जय प्रकाश शर्मा की दुकान को सील करने की कार्रवाई को कांग्रेस इमरती देवी के इशारों पर की गई बदले की कार्रवाई कह रही है। शहर जिला कांग्रेस अध्यक्ष डाॅ देवेन्द्र शर्मा का कहना है कि भाजपा सरकार और उनके नेता अब बदले की कार्रवाई पर उतर आये हैं। जिला अध्यक्ष ने कहा कि पिछले दिनों कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक डबरा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मिलने पहुंचे थे। ब्लाॅक अध्यक्ष जयप्रकाश शर्मा ने सभी कांग्रेस जनो से उनकी मुलाकात कराई। जिसकी खबर सिंधिया समर्थक इमरती देवी को भी लग गई और इससे बौखलाकर उन्होंने नगर पालिका परिषद डबरा के अधिकारियों पर दबाव बनाकर ब्लाॅक अध्यक्ष जयप्रकाश शर्मा की दुकान सील कराने के आदेश जारी कराए। उन्होंने कहा कि भाजपा का ध्यान कोरोना को रोकने में नहीं है बल्कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर बदले की नीयत से कार्रवाई करने का है । जिला अध्यक्ष का कहना है कि जयप्रकाश शर्मा ने 99 साल की लीज पर दुकान प्राप्त की है, लाॅकडाउन लागू होने के बाद सीमा सील होने के कारण इस वर्ष का लीज रेंट जमा नहीं कर पाए जिसकी आड़ लेकर सिंधिया समर्थक भाजपा नेत्री ने दुकान सील करवा दी। डॉ शर्मा ने कहा कि इमरती देवी ने जो डबरा ब्लाॅक कांग्रेस अध्यक्ष की दुकान सील कराने का जो षणयंत्र किया है कांग्रेस उसे बर्दाश्त नहीं करेगी। चुनाव में जनता ही उन्हें जवाब देगी।

अपने नेता की दुकान बंद कराने पर भड़की कांग्रेस, सिंधिया समर्थक पूर्व मंत्री को दी धमकी अपने नेता की दुकान बंद कराने पर भड़की कांग्रेस, सिंधिया समर्थक पूर्व मंत्री को दी धमकी अपने नेता की दुकान बंद कराने पर भड़की कांग्रेस, सिंधिया समर्थक पूर्व मंत्री को दी धमकी अपने नेता की दुकान बंद कराने पर भड़की कांग्रेस, सिंधिया समर्थक पूर्व मंत्री को दी धमकी