गौर के दावे पर कांग्रेस का बड़ा खुलासा, ये हो सकते हैं लोकसभा उम्मीदवार

congress-denied-babulal-gaur-claim-of-loksabha-ticekt

भोपाल। बीजेपी के वरिष्ठ नेता और मध्‍य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर ने दावा किया है कि कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने उन्हें लोकसभा चुनाव के लिए टिकट देने की पेशकश की थी। उनके दावे पर कांग्रेस ने खंडन किया है। प्रदेश कांग्रेस ने उनके दावे को खारिज करते हुए कहा है कि टिकट की पेशकश की बात सिर्फ बाबूलाल गौर कह रहे हैं। क्या आपने दिग्विजय सिंह से ऐसा कोई बयान सुना है। सूत्रों के मुताबिक राजधानी भोपाल से कांग्रेस पूर्व पीएम लाल बहादुर शास्त्री के बेटे अनिल शास्त्री को लोकसभा चुनाव में उम्मीदवार बना सकती है। 

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता रवि सक्सेना ने मीडिया से कहा कि बीते तीन दिन से हम इस बात को दोहरा रहे हैं कि बीजेपी के वरिष्ठ नेता बाबूलाल गौर इस बात का दावा कर रहे हैं कि उन्हें दिग्विजय सिंह की ओर से भोपाल से टिकट की पेशकश की गई है। क्या खुद दिग्विजय सिंह ने उनके बयान का समर्थन या फिर इस संबंध में कोई बयान दिया? उन्होंने कहा कि ऐसा माना जा रहा है कि गौर कांग्रेस का नाम लेकर बीजेपी पर टिकट देने के लिए दबाव बना रहे हैं। कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि विधानसभा चुनाव के दौरान भी उन्होंने यह अफवाह उड़ाई थी कि कांग्रेस उनकी बहु कृष्णा गौर को उम्मीदवार बना सकती है। 

कांग्रेस पदाधिकारी ने कहा कि भोपाल सीट से कई उम्मीदवार दावा कर रहे हैं। प्रवक्ता रवि सक्सेना ने कहा कि हम यहां लोकसभा चुनाव के टिकट की बात कर रहे हैं न कि किसी निगम चुनाव की। टिकट वितरण के लिए जो प्रक्रिया अपनाई जाती है पार्टी उसका पालन करेगी। हर निर्वाचन क्षेत्र के लिए उम्मीदवारों का एक पैनल तैयार किया जाता है। जो सबसे पहले प्रदेश स्क्रिनिंग समिति के पास भेजा जाता है फिर वहां से केंद्रीय समिति के पास भेजा जाता है। विचार मंथन के बाद फिर कांग्रेस वर्किंग कमेटी के पास नाम जाते हैं। जिसके बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी अंतिम निर्णय लेते हैं। हमारे पास कई कद्दावर नेता हैं जो भोपाल और बाहर दोनों जगह से हैं।