कांग्रेस को नहीं मिली कार्यक्रम की अनुमति, सिंधिया-भाजपा पर दबाव के आरोप

ग्वालियर, अतुल सक्सेना

भाजपा की तर्ज पर बुधवार को महासदस्यता अभियान करने जा रही कांग्रेस को जिला प्रशासन ने अनुमति नहीं दी है। जिसके बाद मेला प्राधिकरण ने भी अपनी अनुमति वापस ले ली है। उधर कांग्रेस ने अनुमति नहीं देने के पीछे प्रशासन पर ज्योतिरादित्य सिंधिया और भाजपा का दबाव बताया है और प्रदर्शन की घोषणा की है।

बुधवार को शहर जिला कांग्रेस कमेटी शहर के मेला ग्राउंड स्थित एक्सपोर्ट फेसिलिटेशन सेंटर के कन्वेंशन हॉल में महा सदस्यता अभियान की शुरुआत करने जा रही थी। इसके लिए मेला प्राधिकरण ने नियमानुसार राशि लेकर अनुमति दे दी लेकिन कुछ देर बार ये कहकर निरस्त कर दी कि जिला प्रशासन ने कार्यक्रम की अनुमति नहीं दी है। पूर्व मंत्री लाखन सिंह यादव, शहर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डॉ देवेंद्र शर्मा एवं ग्रामीण कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अशोक सिंह ने अपने संयुक्त बयान में प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि ग्वालियर प्रशासन राज्य सभा सांसद व भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के दबाव के चलते कांग्रेस पार्टी को कार्यक्रम करने की अनुमति नहीं दे रहा है पहले मेला प्राधिकरण द्वारा कार्यक्रम आयोजक अशोक सिंह तोमर को कार्यक्रम करने की परमिशन देते हुए सुबह 29000 रुपये जमा कराकर रसीद दे दी गई और फिर बाद में सिंधिया व भाजपा के दबाव के चलते रात को उस कार्यक्रम की अनुमति को रद्द कर दिया गया। इससे यह साबित होता है कि प्रशासन सिंधिया और भाजपा की कठपुतली बनकर रह गया है। इस बयान के माध्यम से कांग्रेस पार्टी के तीनों वरिष्ठ नेताओं ने कहा कि प्रशासन परमीशन नहीं देगा तब भी कांग्रेस कार्यकर्ता वहां पर इकट्ठे होकर प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे।