सांसद शंकर लालवानी के जन्मदिन को लेकर कांग्रेस नेता के.के.मिश्रा ने उठाये सवाल, कही ये बात

इंदौर (Indore) में कांग्रेस (Congress) ने एक ऐसा सवाल उठाया जिसके बाद देश के सबसे अधिक पसंद किए जाने वाले सांसद शंकर लालवानी (Shankar Lalwani) सवालों के घेरे में आ गए है। दरअसल, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के.के.मिश्रा (KK Mishra) ने इंदौर से बीजेपी सांसद शंकर लालवानी पर सवाल उठाए और उनके द्वारा महाशिवरात्रि (Mahashivratri) पर मनाए गए जन्मदिन को लेकर तंज कसा है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर (Indore) में कांग्रेस (Congress) ने एक ऐसा सवाल उठाया जिसके बाद देश के सबसे अधिक पसंद किए जाने वाले सांसद शंकर लालवानी (Shankar Lalwani) सवालों के घेरे में आ गए है। दरअसल, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के.के.मिश्रा (KK Mishra) ने इंदौर से बीजेपी सांसद शंकर लालवानी पर सवाल उठाए और उनके द्वारा महाशिवरात्रि (Mahashivratri) पर मनाए गए जन्मदिन को लेकर तंज कसा है। कांग्रेस प्रवक्ता के.के.मिश्रा के ट्वीट कर जन्मदिन को लेकर उठे सवाल ने सियासी रंग चढ़ा दिया। ट्वीट में लिखा गया है कि, मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) की व्यवसायिक राजधानी इंदौर के सांसद मेरे प्रिय मित्र शंकर लालवानी का जन्मोत्सव गुरुवार, शिवरात्रि को धूमधाम से मना ! PAN CARD में तो उनकी जन्मतिथि 16.10.1961 अंकित है ?? प्रजा पालक “शंकर जी” यह क्या है?

सांसद शंकर लालवानी के जन्मदिन को लेकर कांग्रेस नेता के.के.मिश्रा ने उठाये सवाल, कही ये बात

कांग्रेस नेता के ट्वीट के बाद हालांकि सवाल भी उठे और स्थानीय मीडिया ने सांसद शंकर लालवानी से सवाल किया तो उन्होंने जबाव दिया कि तिथि के हिसाब से उनका जन्मदिन महाशिवरात्रि पर ही आता है और स्कूल के समय गलत रूप से तारीख लिखी गई थी और उसी के हिसाब से पेन कार्ड बना है। हालांकि सांसद इस बात का जबाव नही दे पाए कि उन्होंने जन्म तारीख में सुधार क्यों नही करवाया।

यह भी पढ़ें…Accident: अनियंत्रित होकर पलटी बस, 3 की मौत, 25 से ज्यादा घायल, कमलनाथ ने ट्वीट कर जताया दुख

बता दें कि शिवरात्रि के दिन शहर के अलग-अलग स्थानों पर सांसद शंकर लालवानी ने केक काटा और जन्मदिन मनाया और लोगों ने उन्हें तोहफे भी भेंट किए । कही उन्हें ड्राय फ्रूट से तोला गया तो कही उन्होने बड़े आयोजन में जन्मदिन सेलिब्रेट किया।

सांसद शंकर लालवानी के जन्मदिन को लेकर कांग्रेस नेता के.के.मिश्रा ने उठाये सवाल, कही ये बात

ऐसे में कांग्रेस द्वारा उठाये गए सवाल का कोई सियासी मायना निकले या नहीं लेकिन सवाल ये है कि आखिरकार सांसद का जन्मदिन सेलिब्रेट किया जाना चाहिए या नहीं। क्योंकि पेन कार्ड (pan card) अपने आप मे सरकारी दस्तावेज हैं और सांसद को भी नही नकारा जा सकता क्योंकि वो लोकतंत्र के एक अहम स्तंभ के चुने गए सदस्य है। फिलहाल, शंकर लालवानी के जन्मदिन पर आने वाले दिनों में सियासी गलियारों में चर्चा जारी रहेगी। क्योंकि सवाल उनके जन्मदिन पर उठा है।

यह भी पढ़ें…Sainik School: छात्राओं को लेकर सरकार का बड़ा फैसला, नए सत्र से मिलेगा लाभ