कांग्रेस मीडिया प्रभारी का बयान, बचकानी है शिवराज की मांग

shobha ojha slams shivraj

भोपाल।

सियासी खींचतान के बीच उलझा प्रदेश पल पल नए पत्ते खोल रहा है। अब सीएम हाउस(cm house) में सीएम कमलनाथ(cm kamalnath) अपने नेताओं के साथ प्रदेश की राजनीतिक बाधाओं पर चर्चा कर रहे थे। चर्चा के बाद बैठक से बाहर आयी कांग्रेस प्रभारी ने बीजेपी पर जुबानी पार करते हुए बताया कि शिवराज(shivraj) की चिट्ठी राज्यपाल के लिए रंग पंचमी(rang panchmi) का मजाक है। राज्यपाल को आज तक ऐसी बचकानी चिट्ठी किसी भी जगह से नहीं मिली होगी। बीजेपी लोकतंत्र का मजाक बनाकर सत्ता में लौटना चाहती है लेकिन इसे कमलनाथ सरकार को कोई खतरा नहीं है।

कांग्रेस मीडिया प्रभारी शोभा ओझा(shobha ojha) ने बीजेपी प्रतिनिधिमंडल(bjp deligate) के राज्यपाल से मुलाकात के सवाल पर यह भी कहा कि भाजपा(bhajpa) प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल से बचकानी मांग कर रहा है। बीजेपी(bjp) ने हमारे विधायकों को बंधक बनाया है। ऐसे में बीजेपी फ्लोर टेस्ट की मांग कैसे कर सकती है।मीडिया प्रभारी ओझा(ojha) ने साफ कहा है कि सरकार के पास पूर्ण बहुमत है। अगर फ्लोर टेस्ट की स्थिति बनती है तो फैसला कमलनाथ सरकार के हक में ही आएगा।

बता दें कि इससे पहले भाजपा के प्रतिनिधिमंडल ने शनिवार को राज्यपाल लालजी टंडन(lalji tandon) से मुलाकात कर अनुच्छेद 175 (2) के तहत शक्तियों के उपयोग के मांग की है। जहां उन्होंने कमलनाथ सरकार(kamalnath government) को बहुमत साबित करने की मांग की है। बीजेपी ने कमलनाथ सरकार पर अपने ही विधायकों पर दवाब बनाने का आरोप लगाया है। इस प्रतिनिधिमंडल में भाजपा के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के अलावा नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, नरोत्तम सिंह भूपेंद्र सिंह और रामपाल सिंह भी मौजूद थे। गौरतलब हो कि बजट सत्र 16 मार्च शुरू होने वाला है। बजट सत्र से पहले राज्यपाल का अभिभाषण होगा। जिसमें भारतीय जनता पार्टी चाहती है कि अभिभाषण से पहले कमलनाथ सरकार विधानसभा में अपना बहुमत साबित करें।