लक्ष्मण का सवाल, छोटे चोर को जेल-बड़े को बेल, समझौते की राजनीति आखिर कब तक.?

congress-mla-laxman-singh-question-raised-by-tweet

भोपाल| मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीबियों पर आयकर के छापे के बाद प्रदेश और देश की सियासत गरमाई हुई है| सीएम के ओएसडी प्रवीण कक्कड़ ने इस पूरी कार्रवाई पर सवाल उठाते हुए हाई कोर्ट में याचिका दायर की है| उन्होंने इस कार्रवाई को राजीनति से प्रेरित बताया है| वहीं भाजपा और कांग्रेस के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है, कांग्रेस ने जहां सरकारी एजेंसियों का दुरूपयोग करने का आरोप लगाया है, वहीं भाजपा इसे कांग्रेस सरकार का घोटाला बता रही है| चुनावी समय में हुई इस कार्रवाई को लेकर राजनीति जारी है, इस बीच कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्वजिय सिंह के छोटे भाई लक्ष्मण सिंह ने ट्वीट कर सवाल खड़े कर दिए हैं|  

दरअसल, कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने एक ट्वीट कर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है| हालांकि उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया है कि किस मामले में उनका यह ट्वीट है, लेकिन वर्तमान में जिस तरह सियासत में आयकर की कार्रवाई को लेकर राजनीति हो रही है| इस ट्वीट को भी इसी से जोड़कर देखा जा रहा है| लक्ष्मण सिंह ने ट्वीट कर लिखा है-‘छोटे चोर को तो जेल, बड़े चोरों को बेल!! जिनके घर से करोडों रुपए जब्त हुए हैं, उनकी गिरफ्तारी क्यों नहीं? समझौते की राजनीती अखिर कब तक?..’|

अपनी ही पार्टी और सरकार की कार्यप्रणाली पर बेबाकी से सवाल उठाने वाले लक्ष्मण सिंह के इस ट्वीट से सियासत में हलचल मच गई है| आखिर उनका निशाना किस ओर है, इसके अलग अलग मायने निकले जा रहे हैं| क्यूंकि उन्होंने ट्वीट में समझौते की राजनीति का जिक्र किया है|  

लक्ष्मण का सवाल, छोटे चोर को जेल-बड़े को बेल, समझौते की राजनीति आखिर कब तक.?