अतिक्रमणविरोधी कार्रवाई के खिलाफ कांग्रेस MLA, बताया “चौथ वसूली का नया कारोबार”

ग्वालियर।  मुख्यमंत्री कमलनाथ की मंशा के अनुरूप प्रदेश को माफिया और अतिक्रमणकारियों से मुक्त करने के लिए जारी जिला प्रशासन की कार्रवाई को कांग्रेस के ही विधायक ने गलत ठहराया है । उन्होंने कार्रवाई को चौथ वसूली का नया कारोबार बताया है।

ग्वालियर पूर्व से कांग्रेस विधायक मुन्नालाल गोयल ने प्रदेश के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्धन सिंह को एक पत्र लिखकर शहर में चल रही अतिक्रमणविरोधी मुहिम को गलत ठहराया है। पत्र में उन्होंने लिखा कि सरकार और मुख्यमंत्री की मंशा बड़े अतिक्रमणकारियों और भू माफिया पर कार्रवाई करने की है लेकिन ग्वालियर जिला प्रशासन और नगर निगम प्रशासन मध्यमवर्गीय आमजन को परेशान कर रहा है। हमारे पास जो फीड बैक जनता से आ रहे हैं उसके मुताबिक यदि इस तरह की कार्रवाई को रोका नहीं गया तो इसका हमें नगरीय निकाय चुनाव में नुकसान उठाना पड़ सकता है ।

कांग्रेस विधायक का कहना है कि पहले निर्माण के समय निगम के अफसरों ने लूटा और अब चौथ वसूली का नया कारोबार शुरू हो गया है। विधायक ने सुझाव दिया है पहले यातायात में बाधक अतिक्रमणों को हटाया जाये उसके बाद एक कमेटी बनाकर बड़े अतिक्रमण  चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाये। आमजनता को परेशान नहीं किया जाये। गौरतलब है कांग्रेस विधायक का ये पत्र ऐसे समय आया है जब जिला प्रशासन सरकार के निर्देश पर एंटी माफिया मुहिम चला रहा जिसमें पिछले तीन चार दिनों में रसूखदारों के अवैध निर्माणों जैसे होटल आदि से अतिक्रमण हटाये गए है और यहाँ भी नोटिस देकर या हाईकोर्ट के आदेश के आधार पर । लेकिन अप्रत्यक्षरूप से इन सभी की तरफदारी कर और प्रशासन की कार्रवाई पर सवाल खड़े कर कांग्रेस विधायक मुन्नालाल गोयल खुद सवालों के घेरे में आ गए हैं। बहरहाल अब देखना ये होगा कि मंत्री जयवर्धन सिंह अपनी पार्टी के विधायक के पत्र को कितनी गंभीरता से लेते हैं।