Bhopal : बच्चियों से रेप की बढ़ती घटनाओं के खिलाफ कांग्रेस ने सीएम और गृहमंत्री को भेजी गुड़िया

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। राजधानी में एक स्कूल बस में मासूम बच्ची के साथ रेप का मामला सामने आने के बाद से शहर में सनसनी है। इस घटना को गंभीरता से लेते हुए तुरंत कार्रवाई की गई और अपराधियों की गिरफ्तारी हो चुकी है। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करते हुए कहा कि ‘भोपाल के एक स्कूल बस में हुई घटना को पूरी गंभीरता से लिया गया है। उक्त प्रकरण में अपराधियों की गिरफ्तारी हो चुकी है। दुष्कर्म की इस घटना को चिन्हित अपराध की श्रेणी में लिया गया है, जिससे प्रकरण की सुनवाई जल्द से जल्द हो सकें।’ वहीं कांग्रेस अब इस मामले पर हमलावर हो चुकी है और प्रदेश में लगातार बढ़ रही दुष्कर्म की घटनाओं पर उसने सरकार को आड़े हाथों लिया है।

भोपाल : पहले भी विवादो मे रहा है बिलाबॉन्ग हाई इंटरनेशनल स्कूल, पुलिस ने नही की थी कार्रवाई

कांग्रेस मीडिया विभाग की उपाध्यक्ष संगीता शर्मा ने नाबालिग से रेप के विरोध स्वरूप मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा और स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार को को गुड़िया भेजी है। मध्यप्रदेश में हो रहे नाबालिग बच्चियों के साथ रेप और गैंगरेप जैसी घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए विरोध जताते हुए इन मंत्रियों के निवास पर कुरियर के माध्यम से खिलौना गुड़िया पहुंचायी है। कांग्रेस का कहना है कि प्रदेश में ऐसी घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही और इन्हें रोकने में सरकार और प्रशासन पूरी तरह नाकाम रहा है। हालिया घटना ने एक बार फिर शहर में बच्चियों की सुरक्षा को लेकर चिंता बढ़ा दी है। इसी के साथ उन्होने लोगो से अपील की है कि ज्यादा से ज्यादा संख्या में मंत्रियों के घर गुड़िया पहुंचाई जाए ताकि सरकार बच्चियों की सुरक्षा को लेकर कोई पुख्ता इंतजाम करे।
बता दें कि भोपाल में नीलबड़ स्थित बिलाबाॅन्ग हाई इंटरनेशनल स्कूल में एक बच्ची के साथ रेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है। नर्सरी में पढ़ने वाली साढ़े तीन साल की बच्ची से स्कूल बस ड्राइवर ने रेप किया। ड्राइवर कई दिनों से बच्ची से अश्लील हरकते कर रहा था, लेकिन परिजन इस घटना से अनजान थे। हालांकि बच्ची ने घर में अपने पिता से प्राइवेट पार्ट में दर्द होने की बात बताई थी लेकिन माता पिता ने इस बात को गंभीरता से नहीं लिया। अचानक एक दिन जब बच्ची स्कूल से लौटी तो उसके कपड़े बदले हुए थे, उसने स्कूल ड्रेस की बजाए दूसरे कपड़े पहन रखे थे, बच्ची से जब कपड़े चेंज करने की बात पूछी गई तो उसने बताया कि ड्राइवर ने उसके कपड़े बदले और उसे बुरी तरह छुआ। इसके बाद ये मामला उजागर हुआ।