कांग्रेस मिलना चाहती है सीएम से, पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने सिंधिया को बताया ब्लैकमेलर तो सीएम शिवराज पर साधा निशाना

इंदौर,आकाश धोलपुरे।  बुधवार को शहर कांग्रेस कमेटी ने शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल के नेतृत्व में पूर्व मंत्री और विधायक जीतू पटवारी, विधायक विशाल पटेल और कांग्रेस नेता प्रेमचंद गुड्डू सहित अन्य कांग्रेसी नेताओं ने इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह से विभिन्न मुद्दों को लेकर मुलाकात की और ज्ञापन भी सौंपा।

इस दौरान पूर्व कैबिनट मंत्री जीतू पटवारी ने किसानों, बिजली उपभोक्ताओं, निजी अस्पतालों की मनमानी सहित कई मुद्दों को लेकर बात की। कांग्रेसियों ने इंदौर कलेक्टर से मांग कर कहा कि शुक्रवार को जब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इंदौर आये तो कलेक्टर 10 कांग्रेसियों से मुलाकात करने का समय दे ताकि जन समस्याओं से सीएम को अवगत कराया जा सके।

हाथों में सोयाबीन की सड़ चुकी फसल को लेकर कांग्रेस के प्रदेश मीडिया प्रमुख जीतू पटवारी ने कहा कि मालवा निमाड़ सहित समूचे प्रदेश में जोरदार बारिश के चलते फसल सड़ चुकी है और कांग्रेस प्रदेश सरकार से मांग करती है कि वो हर किसान को प्रति हेक्टेयर 40 हजार रुपये का मुआवजा दे, क्योंकि प्रदेश में किसान खून के आंसू रो रहा है। वही यदि शिवराज सरकार मुआवजे की बात नही मानती है तो 25 हजार कांग्रेसी सड़क पर उतरकर किसान हित में प्रदर्शन और चक्काजाम करेंगे।

यही नहीं उन्होंने कमलनाथ सरकार में शिवराज सिंह चौहान की घोषणा को दोहराते हुए कहा तब शिवराज ने कहा और अब कांग्रेस कह रही है कि बिजली के बिलो को कम कर 200 रुपये किया जाए। वही किसानों को मिलने वाली बिजली के बिलो को भी कम किया जाए। वर्तमान में आम उपभोक्ताओं को 2 हजार से ज्यादा के बिजली बिलों का भुगतान करना पड़ता है और यदि बिल नही भरे जाते है तो विद्युत विभाग द्वारा बिजली काटी जा रही है। ऐसे में अब किसी की बिजली काटी जाएगी तो कांग्रेस बिजली जोड़कर देगी।कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने कहा कि कमलनाथ सरकार के समय शिवराज सिंह ने भी ये ही कहा था। वही पटवारी ने सीएम पर तंज कसा और कहा उनकी जुबान की अब कीमत नही रही है और वो कैसे भी बस प्रदेश के मुख्यमंत्री बने रहना चाहते है।

इधर, उन्होंने बीजेपी ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधते हुए कहा कि जनता उन्हें जबाव देगी की वो खुद्दार है या गद्दार। पटवारी यही नही रुके उन्होंने सिंधिया को ब्लैकमेलर बताते हुए कहा कि वो कांग्रेस की सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगा रहा है, जबकि प्रदेश में कमलनाथ सरकार के बनते ही सिंधिया ने अपनी संस्था के नाम से 100 एकड़ जमीन अलाट कराई थी ये भ्रष्टाचार था या जनसेवा थी। सिंधिया हमारे साथ भी ब्लैकमेलिंग करते थे और शिवराजसिंह चौहान के साथ कर रहे है। सिंधिया जनसेवक कम ब्लैकमेलर ज्यादा है। उन्होंने बीजेपी सरकार में विभाग मनपसंद लेकर अपनी पसंद के अधिकारियों को बिठाया है। ग्वालियर में हुई मेघा रैली के मामले में तंज कसते हुए जीतू पटवारी ने कहा कि आने वाले चुनाव में ग्वालियर चंबल अंचल की जनता बता देगी कि वह किसके साथ है।

वही सांवेर में करोड़ो रूपये के भूमिपूजन करने आ रहे सीएम पर पटवारी से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि भूमिपूजन का पुराना नाता है शिवराज जी से। उनकी 21 हजार घोषणाएं अधूरी है अतिथि शिक्षकों और कोरोना वारियर्स को लेकर कई घोषणा की थी और अब तक भी घोषणा पूरी नही हुई। कोविड अस्पतालों में मुफ्त में इलाज की घोषणा भी बेकार हो गई कोविड अस्पतालों में इलाज के नाम पर पैसे वसूले जा रहे है जिसका मतलब है कि शिवराज सिंह चौहान की जबान की ताकत कम हो चुकी है।

उन्होंने कहा कि कितने ही भूमिपूजन कर लो सांवेर से सिलावट नही जीतेंगे। वही निजी अस्पतालों द्वारा मरीजो से बिल के नाम पर मनमानी वसूली को लेकर प्रशासन से पटवारी ने शिकायत की है। इसके अलावा उन्होंने सीएम शिवराज के नए प्लेन पर सवाल उठाए और कहा कि 11 हजार करोड़ का लोन शिवराज सरकार ने लिया है और वो खुद 65 करोड़ के प्लेन में घूमेंगे ये उनकी दोहरी नीति है।  इधर, कांग्रेस द्वारा 25 हजार कार्यकर्ताओ के किसान हित मे सड़क पर प्रदर्शन को लेकर किये गए सवाल के जबाव में पूर्व कैबिनेट मंत्री ने कहा कि हमने हर समय प्रशासन के नियमो का पालन किया लेकिन कोरोना काल मे अगर किसानों के लिये हमारी जान भी चली जाए तो मंजूर है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here