हल्‍लाबोल: 30 नवंबर को भाजपा सांसदों के बंगलों का घेराव करेगी कांग्रेस

भोपाल।

छत्तीसगढ़ के बाद कांग्रेस अब मध्यप्रदेश में बीजेपी सांसदों के बंगले का घेराव करने की तैयारी में जुट गई है। कांग्रेस 30 नवंबर को बीजेपी सासंदों के बंगले का घेराव करेगी। सांसदों को जगाने वाले आंदोलन में कांग्रेस कार्यकर्ता बीजेपी सांसदों को ज्ञापन देकर केंद्र से राज्य के हिस्से की राशि दिलाने की मांग भी करेंगे।

इसके लिए प्रदेश कांग्रेस कमेटी  ने सभी जिलों को निर्देश जारी किए है। कांग्रेस पार्टी ने उन जिलों को प्रदर्शन करने के निर्देश दिए है, जहां से भाजपा सांसद चुने गए हैं।  कांग्रेस कमेटियां प्रदर्शन कर केंद्र से मध्यप्रदेश के हिस्से की राशि संबंधी पत्र सांसदों को सौंपेंगी। सभी जिला कांग्रेस कमेटियों को सांसदों के निवासों पर 30 नवंबर को एकसाथ प्रदर्शन करने के लिए परिपत्र भेजा गया है। इससे पहले कांग्रेस कमेटी ने भाजपा के 28 सांसदों को पत्र लिख कर केंद्र से प्रदेश की लंबित राशि को दिलाने की मांग की थी, लेकिन अब बीजेपी सांसदों को जगाने के लिए कांग्रेस ने ये कदम उठाया है। कांग्रेसी अपने प्रदर्शन के दौरान बीजेपी सांसदों को भी इस बात की जानकारी देंगे कि किस योजना के तहत कितनी राशि केंद्र से प्रदेश को मिलनी है।

कांग्रेस का आरोप है कि  केंद्र सरकार मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार के साथ भेदभाव कर रही है। केंद्रीय करों में जो प्रदेश के हिस्से की राशि है, वह नहीं दी जा रही। केंद्र प्रवर्तित योजनाओं में भी प्रदेश के हिस्से की राशि नहीं दी जा रही है।इस साल अतिवृष्टि से प्रदेश में भारी तबाही हुई है, किसानों को बड़ा नुकसान हुआ है। बाढ़ से जान व माल की भारी क्षति हुई है, जिसके लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर 6631 करोड़ रुपए का राहत पैकेज मांगा था, लेकिन इसमें भी केवल 1000 करोड़ रुपए ही दिया है।कांग्रेस का आरोप है कि प्रदेश में भाजपा के 28  सांसद चुनकर आए है जो इस भेदभाव पर मौन साधे हुए है।