संबल पर गर्माई सियासत, भाजपा-कांग्रेस मे जमकर चले तीर

भोपाल। शिव ‘राज’ में शुरु हुई ‘संबल योजना’ में बड़े घोटाले का खुलासा हुआ है| योजना ला लाभ आयकरदाता, भाजपा नेताओं ने भी लिया है| कमलनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री पीसी शर्मा ने आरोप लगाया है कि बीजेपी के15 साल के शासनकाल मे फर्जीवाड़े के अलावा कुछ नही किया। शर्मा ने योजना में अपात्रों के खिलाफ एफआईआर करने की बात कही है वही इस फर्जीवाड़े में बीजेपी के कार्यकर्ताओं के शामिल होने के भी आरोप लगाए है। उन्होंने कहा अपात्र लोगों से वसूली की की जायेगी। घोटाले के आरोप से सियासत गरमा गई है| पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज और पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सरकार पर जमकर हमला बोला है।

मीडिया से चर्चा करते हुए मंत्री शर्मा ने कहा कि संबल योजना में लाखों की संख्या मे बीजेपी कार्यकर्ताओं को लाभ देने का प्रयास किया गया है। इनकम टैक्स भरने वालों को भी तत्कालीन सरकार ने इसका लाभ दिया है।  योजना की जांच की जाएगी और अपात्रों के नाम काटे जाएंगे, दोषियों के खिलाफ एफआईआर की जाएगी, वही जरुरत पड़ी तो वसूली भी करेंगें। जनता के पैसों को हर हाल में अपात्र लोगों से वसूला जाएगा। इसमें बीजेपी कार्यकर्ताओं को बड़ा लाभ दिया गया है।

संबल योजना में घोटाले के आरोप को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शर्मा पर पलटवार किया है। शिवराज का कहना है कि संबल योजना में जो पात्र थे, उनको सरकार लाभ नहीं देना चाहती है । घोटाला अगर हो गया तो करने वालों को जेल भेजो कौन मना कर रहा है । शिवराज ने आगे कहा कि गरीबों के हक छीनने वालों को जवाब जनता देगी। जो करना है करो। तीन क्राइटेरिया थे उसके आधार पर संबल योजना का लाभ दिया गया । इस सरकार ने गरीबों का गला घोट दिया और संबल योजना बंद कर दी। गरीब की लाश से कफ़न के 5 हजार  छीन लिए क्या बात करेंगे जवाब दे सरकार।

वही पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी सरकार पर जमकर निशाना साधा है। मिश्रा का कहना है कि कोई जांच नही कर सकते न किसी परिणाम पर आ सकते। बिजली का बिल भी कम नही कर पाए। दो लाख तक की ऋण माफी की घोषणा की और उसे भी नही कर पाए। बिजली मे बिल कम नही कर पाए इसलिए अब जांच की बात करते हैं। ये गरीबों का हक मारने वाली सरकार है ।जनता को धोखा देने वाली सरकार है।मिश्रा ने आगे कहा कि संबल योजना के परखच्चे उड़ा रहे हैं और कुछ नही।जो अच्छे काम होते हैं उसे ये सरकार अपना बताती है। पांच रुपए की थाली बंद कर दी और सोने के चम्मच लेकर पैदा होने वाले इस पार्टी मे हैं तो उन्हे गरीबो का दर्द क्या मालूम।