MP में फिर बढ़ रहे कोरोना के केस, सामने आया सीएम शिवराज का बड़ा बयान

सीएम शिवराज सिंह चौहान (MP Chief Minister Shivraj Singh Chouhan)  ने कहा कि #COVID19 संक्रमण अब मध्यप्रदेश में बढ़ रहा है।

सीएम शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।मध्य प्रदेश (MP) में अनलॉक की प्रक्रिया और भारी बारिश (Heavy Rain) के बीच एक बार फिर कोरोना (MP Corona) के केस बढ़ने शुरु हो गए है। आज बुधवार को 28 नए पॉजिटिव केस सामने आये हैं, जिसने शिवराज सरकार की टेंंशन बढ़ा दी है। कोरोना संक्रमण (Coronavirus) में प्रदेश देश में 30वें स्थान पर है।  प्रदेश की कोरोना पॉजिटिविटी दर 0.01 प्रतिशत है। इसी बीच सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने चिंता जताई है।

यह भी पढ़े.. MP Weather Alert: मप्र में बाढ़ का कहर, 12 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी, अलर्ट जारी

सीएम शिवराज सिंह चौहान (MP Chief Minister Shivraj Singh Chouhan)  ने कहा कि #COVID19 संक्रमण अब मध्यप्रदेश में बढ़ रहा है। मैं लगातार लोगों से कह रहा हूँ कि सतर्क रहें, सावधानी बरतें। कल 28 पॉज़िटिव केस आये हैं। हम आवश्यक उपाय करेंगे। जनता से पुनः अपील करता हूँ, बहुत सावधानी की आवश्यकता है। किसी भी हाल में हमें तीसरी लहर नहीं आने देना है। इधर, दमोह में एक साथ मंगलवार को 15 केस सामने आने के बाद प्रशासन अलर्ट हो गया है। वही अन्य जिलों में जहां जहां केस मिल रहे है वहां कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन करवाया जा रहा है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में मंगलवार 71 हजार 103 टेस्ट किये गये हैं। इनमें 28 पॉजिटिव आये हैं। प्रदेश में पॉजिटिव (MP Corona Update) आने की संख्या घटकर 6 तक हो गई थी। अब बढ़ते-बढ़ते यह 28 तक पहुँच गई है। दमोह में 15 और सागर में 7 पॉजिटिव केस आये हैं। बुंदेलखण्ड में पॉजिटिव केस मिलना चिंता का विषय है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्मार्ट उद्यान में मीडिया के प्रतिनिधियों से चर्चा के दौरान यह बात कही। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सतर्कता जरूरी है। प्रदेशवासी मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग जैसी सावधानियों का अनिवार्यत: पालन करें।

यह भी पढ़े.. LIVE: ग्वालियर-चंबल में बिगड़े हालात, इंदौर मार्ग बंद, रेस्क्यू जारी, VIDEO में देखें पल-पल का अपडेट

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेशवासियों से अपील करते हुए कहा कि बहुत अधिक सावधानी की आवश्यकता है। पड़ोसी राज्य छत्तीसगढ़ में भी केस बढ़ रहे हैं। केरल की स्थिति भी सामने है। अत: प्रदेशवासी सतर्क और सावधान रहकर तीसरी लहर को रोकने में सहयोग प्रदान करें। राज्य शासन द्वारा सभी आवश्यक उपाय किये जायेंगे। टेस्टिंग के साथ साथ लोगों को आइसोलेट करने, माइक्रो कंटेंमेंट जोन बनाने जैसी कार्यवाईयाँ की जायेंगी।

हाल ही में 30 जुलाई को सीएम शिवराज सिंह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कोरोना समीक्षा बैठक में कहा था कि प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर नियंत्रित हुई है, परन्तु तीसरी लहर (Corona Third Wave) की संभावनाएँ अभी समाप्त नहीं हुई हैं। केरल (Kerala) एवं महाराष्ट्र राज्यों में अभी भी बड़ी संख्या में कोरोना के प्रकरण आ रहे हैं। उन्होंने निर्देश दिए थे कि MP के सभी कलेक्टर अपने-अपने जिलों में तीसरी लहर की तैयारियों में अस्पतालों में बिस्तर बढ़ाने, ऑक्सीजन संयंत्रों की स्थापना, आईसीयू वार्डस, सिटीस्केन और अन्य जाँच व्यवस्थाएँ, आवश्यक दवाओं की व्यवस्था, विशेषज्ञ चिकित्सकों, पैरामेडिकल स्टाफ, तकनीशियन आदि की व्यवस्था समय पर सुनिश्चित करें।

तेजी से बढ़ रहे केस

आपको बता दे कि पिछले 4 दिनों में MP में कोरोना के नए केस की संख्या लगभग 32 प्रतिशत बढ़ गई है। स्वास्थ्य विभाग के हेल्थ बुलेटिन के अनुसार 31 जुलाई से 3 अगस्त तक 4 दिनों में प्रदेश में कुल 74 नए संक्रमित मिले हैं, जबकि 27 जुलाई से 30 जुलाई तक प्रदेश में 56 नए मरीज मिले थे।भोपाल, जबलपुर, इंदौर जैसे बड़े शहरों के साथ ही दमोह, बड़वानी, राजगढ़, बैतूल, शिवपुरी, सतना जैसे जिलों में भी केस सामने आ रहे हैं, जबकि 24 जुलाई को  कोरोना सिर्फ 4 जिलों तक सीमित था । तीसरी लहर की आशंका के बीच अब धीरे-धीरे कोरोना के साथ ही नए पॉजिटिव मिलने वाले जिलों की संख्या बढ़ने से चिंता बढ़ते जा रही है।