corona

भोपाल।

मध्यप्रदेश(madhyapradesh) में कोरोना प़ॉजिटिव(corona positive) मरीजों की संख्या दिनों दिन बढ़ती जा रही है। प्रदेश में अनलॉक(unlock) के बाद हालात बिगड़ गए है। अनलॉक से शुरू होते ही कोरोना(corona) से मौत का ग्राफ तेज़ी से बढ़ गया है। अनलॉक पीरियड(unlck period) के 08 दिन में 64 मौते हो चुकी है। जबकि मौत का सिलसिला लगातार जारी है। वहीँ 250 मरीज की हालत गंभीर बताई जा रही है।

दरअसल मध्यप्रदेश में अनलॉक पीरियड के दौरान कोरोना से मौत का खतरा बढ़ गया है। प्रदेश में 30 अप्रैल तक 137 लोगो की मौत हो चुकी है ।वही 07 मई तक आंकड़ा बढ़कर 193 पहुँचा। और जून के पहले सप्ताह में ही 64 मौते हुई है। इस दौरान अनलॉक पीरियड के 08 दिन में 64 मौते दर्ज की गई है। जबकि मौत का सिलसिला लगातार जारी है। वहीँ एक दिन में 15 मौते हुई है। हालांकि अब यहां की कोरोना ग्रोथ रेट(growth rate) 2.74 प्रतिशत है। मध्यप्रदेश की कोरोना पॉजिटिविटी(corona positivity) रेट 4.54 प्रतिशत है, जबकि भारत की 5.43 प्रतिशत है।

बता दें कि लगातार कांटेक्ट ट्रेसिंग(contact tracing) और जांच का दायरा बढ़ने से 68.3 प्रतिशत रिकवरी रेट(recovery rate) के साथ प्रदेश भारत में दूसरे नंबर पर आ गया है। एक दिन में 6000 से ज्यादा लोगों की जाँच की जा रही है। पूरे देश की कोरोना रिकवरी रेट 48.4 प्रतिशत है। माना जा रहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या इसी हफ्ते 10 हजार पार कर जाएगी। एसीएस मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि प्रदेश के लिए 250 हाई फ्लो ऑक्सीजन मशीन का आर्डर दिया गया है, जिनमें से 50 मशीनें राज्य को मिल गई हैं।ये मरीजों के इलाज के लिए लाभदायक साबित होंगे।