Coronavirus: राजधानी में बढ़ रहा कोरोना का ग्राफ, मिले 142 पॉजिटिव, आंकड़ा 7400 के पार

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट

मध्य प्रदेश की राजधानी में कोरोना का कहर जारी है। जुलाई में भोपाल में भयानक तबाही मचाने के बाद अब अगस्त की शुरुआत में भी प्रतिदिन लगातार 100 से अधिक पॉजिटिव मामले सामने आ रहे हैं। 10 दिन के कड़े लॉक डाउन के बाद आखिरकार भोपाल को अनलॉक कर दिया गया है। अनलॉक के दोनों दिन 100 से अधिक मामले के बाद अब तीसरे दिन भी 142 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिसके साथ ही प्रदेश में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 7,419 हो गई है। वहीं अब तक 208 लोग इस संक्रमण की चपेट में आने पर अपनी जान गवा चुके हैं।

दरअसल लगातार मिल रहे मामले से प्रशासन भी परेशान है। एक तरफ जहां प्रशासन की सख्ती चालू है वहीं दूसरी तरफ पॉजिटिव मरीजों के मिलने का सिलसिला भी थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी बीच गुरुवार को भोपाल में 142 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिनमें अरेरा कालोनी से एक व्यक्ति कोरोना संक्रमित निकला। एसबीआई ऑफिसर्स कालोनी से एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव निकला। संक्रमित इलाके रोशनपुरा से एक ही परिवार के चार लोग कोरोना संक्रमित निकले। ईदगाह हिल्स से एक ही परिवार के 4 सदस्यों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। जबकि अवधपुरी संयुक्त विहार कालोनी से एक ही परिवार 3 सदस्यों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। रामेश्वरम एक्सटेंशन बागमुगालिया से एक ही परिवार के 3 सदस्यों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। तुलसी नगर से एक ही परिवार के चार लोग संक्रमित मिलें। बैरागढ़ क्षेत्र से 8 लोग कोरोना संक्रमित निकले । इधर गांधी मेडिकल कालेज के डीन ऑफिस से एक व्यक्ति कोरोना संक्रमित निकला। जीएमसी से एक डॉक्टर की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। साथ ही एक मरीज की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई। जेपी अस्पताल से एक मरीज कोरोना संक्रमित निकला।वहीं मंगलवारा थाने से एक जवान की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।सीआरपीएफ हिनोतिया से एक जवान की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

बता दें कि प्रदेश में 142 नए मरीजों के मिलने के साथ ही संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 7 हजार 400 के पार पहुंच गए हैं। हालांकि राहत की बात यह है कि बुधवार को 56 मरीज स्वस्थ हो अपने घर वापस लौटे हैं।जिसके साथ ही अब तक कोरोना से जंग जीतकर 4 हजार 786 लोग अपने घर वापस जा चुके हैं। वहीं जिले के विभिन्न अस्पतालों में 2 हजार 425 एक्टिव मरीजों का इलाज जारी है। इससे पहले लगातार मिल रहे संक्रमण के मामले पर इससे पहले गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बयान देते हुए कहा था कि सरकार की तरफ से कोशिश जारी है। वही प्रदेश की जनता को भी समझना होगा कि लगातार फैल रहे संक्रमण के चयन को रोकने के लिए उन्हें अधिक से अधिक घर में रहने की आवश्यकता है। वहीं प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा था कि अब प्रदेश वासियों को यह स्पष्ट करना है कि वह संक्रमण की चपेट में आकर अस्पताल ना पहुंचे।