बीजेपी के तीन मंत्री समेत 8 प्रत्याशियों के चुनाव लड़ने पर मंडरा रहा संकट !

crisis-on-bjp's-3-minister-and-five-MLAs-to-contest-election-in-madhya-pradesh

भोपाल|   मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए 28 नवंबर को मतदान होना है, जनता को साधने सभी पार्टियां चुनावी मैदान में उतर चुकी हैं| वहीं बीजेपी के लिए मुश्किलें खड़ी हो गई है| चुनाव लड़ रहे तीन मंत्री, पांच विधायकों समेत 8 बीजेपी प्रत्याशियों के नामांकन पर संकट के बदल मंडरा रहे हैं| वरिष्ठ आरटीआई एक्टिविस्ट और कांग्रेस के सूचना का अधिकार विभाग के अध्यक्ष अजय दुबे की शिकायत पर चुनाव आयोग द्वारा धार, उज्जैन, खड़वा, देवास, बड़वानी, रीवा और जबलपुर कलेक्टर से तत्काल प्रतिवेदन मांगा है । दुबे के अनुसार आयकर विभाग ने भी इन प्रत्याशियो के खिलाफ जांच शुरू कर दी है।

दरअसल, आरटीआई एक्टिविस्ट अजय दुबे ने मुख्य निर्वाचन आयुक्त, एमपी मुख्य निर्वाचन आयुक्त और जिला निर्वाचन अधिकारी को पत्र लिखकर प्रदेश के मंत्री पारस जैन, अंतरसिंह आर्य, दीपक जोशी समेत कुल 8 प्रत्याशियों द्वारा एक से अधिक पेन नंबर के उपयोग करने को लेकर शिकायत की थी और इनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी|  पत्र के साथ उन्होंने नेताओं द्वारा पैन नंबर की हलफनामें में दी गई जानकारी को भी आयोग के समक्ष प्रस्तुत किया है। जिससे सच सामने आ सके। दुबे ने  मंत्री, विधायक द्वारा चुनाव के वक्त दिए शपथपत्र में गलत पैन नंबर का विवरण दिए जाने का दावा किया है। उन्होंने आयोग की वेबसाइट पर मौजूद जानकारी को आधार बनाकर प्रत्याशियों की शिकायत की है। अब इस मामले में चुनाव आयोग ने धार, उज्जैन, खड़वा, देवास, बड़वानी, रीवा और जबलपुर कलेक्टर से तत्काल प्रतिवेदन मांगा है । दुबे का कहना है कि ऐसे जनप्रतिनिधियों से समाज /देश को खतरा है जो झूठी जानकारी देकर सत्ता संभाल सकते हैं। यह योजनाबद्ध तरीक़े से गलत जानकारी प्रस्तुत कर पूर्व में चुनाव लड़ चुके हैं। विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र भारत में ऐसे जनप्रतिनिधियों से जनता को खतरा है क्योंकि जो चुनाव लड़ते समय ही झूठ बोल रहे तो भविष्य में निर्वाचित जनप्रतिनिधि बनकर असत्य का उपयोग कर देश को अपूरणीय क्षति पहुचायेंगे। यह सर्वविदित है कि गलत जानकारी देकर चुनाव लड़ना अपराध है और यह कठोर सजा योग्य है।

इन प्रत्याशियों के पास एक से ज्यादा पेन कार्ड 

 

1)मप्र सरकार में केबीनेट मंत्री और उज्जैन(उत्तर)से वर्तमान विधायक श्री पारसचंद्र जैन के द्वारा 2008,2013 और 2018 के चुनाव हेतु नामांकन पत्र में प्रस्तुत पेन नंबर इस प्रकार हैं-

2008 -ABNPJ7597F

2013-ABNP37797F

2018-ABNPJ7797F

2)मप्र सरकार के मंत्री और देवास में हाटपिपल्या से प्रत्याशी दीपक जोशी द्वारा नामांकन पत्रों में प्रस्तुत पेन नंबर इस प्रकार हैं

2008-ACKPJ6379F

2013-ACKPJ6319F

2018-ACKPJ6379F

3)मप्र सरकार के कैबिनेट मंत्री और जिला बड़वानी में सेंधवा से प्रत्याशी अंतर सिंह आर्य द्वारा प्रस्तुत पेन नंबर इस प्रकार हैं

2008-AGYPA3267E

2013-AGVPA3267E

2018-AGVPA3267E

4) धार जिले में मनावर से प्रत्याशी श्रीमती रंजना बघेल द्वारा नामांकन पत्रों में प्रस्तुत पेन नंबर इस प्रकार हैं-

2008-AGEPB7828E

2013-AGEPB7828F

2018-AGEPB7828F

5)जबलपुर में पाटन से प्रत्याशी अजय बिश्नोई द्वारा नामांकन पत्रों में प्रस्तुत पेन नंबर इस प्रकार हैं-

2008-ABJPV5695A

2013-ABJPV5695H

2018-ABJPV5695A

6)रीवा जिले में देवतालाब से प्रत्याशी श्री गिरीश गौतम द्वारा नामांकन पत्र में प्रस्तुत पेन नंबर इस प्रकार हैं-

2008-AGNPG3712K

2013-AGNPG3712C

2018-AGNPG3712C

7)खंडवा जिले में खण्डवा से प्रत्याशी देवेंद्र वर्मा द्वारा प्रस्तुत नामांकन पत्रों में पेन नम्बर इस प्रकार हैं-

2008-ABDPV4837R

2013-AEDPV4837R

2018-AEDPV4837R

8)देवास जिले में सोनकच्छ से प्रत्याशी राजेन्द्र वर्मा द्वारा प्रस्तुत नामांकन पत्रों में पेन नम्बर इस प्रकार हैं-

2008-ABZPV343H

2013-ABZPV03343H

2018-ABZPV03343H