CRPF ने कहा ‘राहुल गांधी 2020 से 113 बार तोड़ चुके हैं सिक्योरिटी प्रोटोकॉल,’ कांग्रेस के पत्र का जवाब

Rahul Gandhi Security : CRPF ने कहा है कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने 2020 से लेकर अब तक करीब 113 बार सिक्योरिटी प्रोटोकॉल को तोड़ा है। उसका कहना है कि उन्हें गाइडलाइंस के मुताबिक सुरक्षा दी जा रही है। ये बात उस पत्र के जवाब में कही गई है जो कांग्रेस ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को लिखा था और भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गांधी की सुरक्षा में चूक की बात कही थी।

सीआरपीएफ ने कही ये बात

केंद्रीय सुरक्षा बल सीआरपीएफ ने कहा है कि उनकी सुरक्षा व्यवस्था राज्य पुलिस तथा सिक्योरिटी एजेंसियों से समन्वय करके की जाती है। सीआरपीएफ ने कहा कि हर दौरे के लिए गृह मंत्रालय द्वारा खतरे का आकलन कर राज्य सरकारों सहित हितधारकों को एडवाइजरी दी गई है। उनका कहना है कि इसके लिए अग्रिम सुरक्षा संपर्क (ASL) भी किया जाता है और 22 दिसंबर को सिक्योरिटी लाइजन कंप्लीट की गई थी। दिल्ली पुलिस ने जानकारी दी है कि सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम थे और इसे लेकर कोई कोताही नहीं हुई है। सीआरपीएफ ने कहा है कि किसी भी व्यक्ति को बेहतर सुरक्षा तभी दी जा सकती है जब वो स्वयं इसका सख्ती से पालन करे, लेकिन राहुल गांधी पिछले दो साल में 113 बार सुरक्षा नियमों का उल्लंघन कर चुके हैं जिसमें भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) भी शामिल है।

कांग्रेस ने लिखा था अमित शाह को पत्र

बता दें कि कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल की ओर से केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को एक पत्र भेजा गया था जिसमें भारत जोड़ो यात्रा के दौरान सुरक्षा में चूक का मुद्दा उठाया गया था। पत्र में कहा गया है कि दिल्ली में कई स्थानों पर सुरक्षा में भारी लापरवाही हुई है और दिल्ली पुलिस इसे लेकर पूरी तरह विफल हुई है। इसे बात पर चिंता ज़ाहिर करते हुए राहुल गांधी की सुरक्षा को लेकर कड़े इंतजाम करने की मांग की गई थी। पत्र में लिखा गया था कि अब भारत जोड़ो यात्रा संवेदनशील राज्यों पंजाब तथा जम्मू और कश्मीर में प्रवेश करेगी और इस दौरान उसे पूरी सुरक्षा मुहैया कराई जाए। इसे लेकर पार्टी ने राहुल गांधी की सुरक्षा के लिए तत्काल कदम उठाने की मांग भी की गई है।